Legislator action- जनसुनवाई में 9 विभागों के अनुपस्थित अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस

विधायक ने जनसुनवाई में अफसरों की लगाई हाजिरी, प्रशासनिक अधिकारियों में मचा हड़कंप
सूची मांगी तो हड़बड़ाहट में दे दी जिले से जा चुके अधिकारियों की सूची
विधायक बोले रिपोर्ट मुख्यमंत्री को दूंगा

बुरहानपुर. लोगों की समस्याओं का निराकरण करने के लिए प्रशासनिक अधिकारी कितने गंभीर हंै यह देखने के लिए मंगलवार को विधायक सुरेंद्र सिंह जनसुनवाई में पहुंचे। कलेक्टर सहित विभागीय अधिकारियों की कुर्सियां खाली देखकर विधायक ने अपर कलेक्टर से कारण पूछा। जनसुनवाई में बैठने वाले विभागों के अधिकारियों की लिस्ट के अनुसार हाजिरी लगाई। 21 विभागों में 12 विभाग के अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित रहे, जबकि 9 विभागों के अधिकारियों के अनुपस्थित होने पर अनुपस्थिति लगाकर सभी को कारण बताओ नोटिस जारी किए।

कलेक्टोरेट में प्रति मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई में विभागीय अधिकारी लापरवाह बने हुए हैं। इसकी बानगी मंगलवार को देखने को मिली। कलेक्टोरेट में दोपहर 12 बजे विधायक सुरेंद्र सिंह जनसुनवाई में पहुंचे तो अधिकारियों की कुर्सियां खाली देखकर हैरान रह गए। वहां बैठे अपर कलेक्टर रोमानुस टोप्पो और संयुक्त कलेक्टर शैली कनाश से अधिकारियों की अनुपस्थित का कारण पूछा। कोई जवाब नहीं मिलने पर जनसुनवाई में बैठने वाले अधिकारियों की सूची मांगी। 15 मिनट तक विधायक को सूची ही उपलब्ध नहीं कराई गई। विधायक ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि लोगों की समस्याओं का निराकरण करने के लिए सभी विभागीय अधिकारियों को जनसुनवाई में उपस्थित होना है, लेकिन यहां पर तो 18 लोग ही उपस्थित हैं।

विधायक को सौंप दी पुराने अधिकारियों की सूची
विधायक सुरेंद्र ङ्क्षसह ने जब जनसुवाई करने वाले अधिकारियों की सूची मांगी तो जल्दबाजी में विधायक को पुराने अधिकारियों की सूची सौंप दी। जब विधायक ने सूची पढ़ी तो कलेक्टर दीपक सिंह, अपर कलेक्टर सिरवैया, एसडीएम सोहन कनाश का नाम निकला। यह सुनकर अधिकारी भी हैरान रह गए। इस पर अपर कलेक्टर टोप्पो ने कहा कि यह पुराने अधिकारियों की सूची है। विधायक ने नई सूची मांगी तो करीब 15 मिनट के बाद विधायक को 21 विभागों की नई सूची दी गई। यह देखकर विधायक ने कहा कि सीएम कमलनाथ को इसकी रिपोर्ट दूंगा की मेरे क्षेत्र में अधिकारी जनसुनवाई के प्रति कितने गंभीर हैं।

विधायक ने नाम पुकार कर लगाई हाजिरी
विधायक ने लिस्ट के आधार पर विभागों के नामों की सूची पढ़कर हाजिरी लगाई। 21 विभाग में 9 विभाग के कोई भी अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित नहीं मिले। कई विभागों के सहायक ग्रेड 3 और लिपिक कर्मचारी बैठे थे। इस पर विधायक ने कहा कि लोगों की समस्या सुनने के लिए अधिकारियों को उपस्थित होना है, कलेक्टर से चर्चा कर इसकी रिपोर्ट सीएम तक भेजी जाएगी।

 

 

 

इन विभागों के अधिकारी रहे अनुपस्थित
मंगलवार को जनसुनवाई में आबकारी विभाग, खनिज, उद्यानिकी, महिला एवं बाल विकास, सहकारिता, पेंशन, स्वास्थ्य, आदिम जाति कल्याण सहायक आयुक्त, शिक्षा विभाग के डीपीसी अनुपस्थित रहे। जबकि विभागीय कर्मचारियों को अगली जनसुनवाई में अपने अधिकारियों के साथ उपस्थित रहने के लिए कहा गया।

अनुपस्थित अधिकारियों को नोटिस
अपर कलेक्टर रोमानुस टोप्पो ने कहा कि जनसुनवाई में उपस्थित नहीं रहने वाले अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा। शासन की मंशानुसार जनसुनवाई में सभी विभागों के अफसरों को उपस्थित होना है। अगली जनसुनवाई में विभागीय अधिकारियों को उपस्थित होने के निर्देश दिए जाएंगे।

जनसुनवाई में 21 में से 12 विभागों के प्रतिनिधि मिले है, लोगों की शिकायतें सुनने के लिए अधिकारी उपस्थित नहीं हो रहे हैं। अनुपस्थित अधिकारियों पर कार्रवाई के लिए कलेक्टर से कहा गया है। इस की रिपोर्ट सीएम तक भेजी जाएगी।
- ठाकुर सुरेंद्र सिंह, विधायक बुरहानपुर

 

 

Show More
tarunendra chauhan Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned