मध्यप्रदेश में हथियार तस्करी का बड़ा मामला उजागर, कार की सीट के नीचे से मिले 20 पिस्टल

गाड़ी में महिलाओं को भी बैठाकर रखा था जिससे किसी को शक न हो, पाचौरी गांव से ले जा रहा था हथियार

बुरहानपुर. मध्यप्रदेश के बुरहानपुर जिले में कार से हथियार तस्करी का बड़ा मामला उजागर हुआ है। आरोपी ने कार में महिलाओं को भी बैठा रखा था जिससे किसी को उन पर शक न हो। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने खकनार तहसील मुख्यालय से करीब 25 किलोमीटर दूर घने जंगल में बसे वनग्राम पाचौरी से अवैध हथियार की कार से तस्करी कर रहे युवक को मंगलवार दोपहर गिरफ्तार किया। पुलिस ने बुधवार को मामले का खुलासा किया है। आरोपी को रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है।

अवैध हथियार बनाने के लिए कुख्यात है पाचौरी गांव

एएसपी महेन्द्र तारणेकर ने बताया कि अवैध हथियार बनाने के लिए पाचौरी गांव कुख्यात है। खकनार पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि एक व्यक्ति ग्राम पचौरी से अवैध हथियार लेकर जाने वाला है। सूचना मिलते ही खकनार पुलिस हरकत में आ गई और बुरहानपुर-देड़तालाई हाइवे पर नाकाबंदी कर दी। ग्राम कारखेड़ा के पास मुखबिर के बताए गए नंबर की गाड़ी को रुकवाया तो इसमें कुछ महिलाएं बैठी थीं, जिन्हें उतारकर गाड़ी की तलाशी लेने पर कुछ नहीं मिला। पुलिस ने गाड़ी को छोडऩे की बजाय थाने ले आए और तलाशी शुरू की तो कार की सीट के नीचे से 20 पिस्टल मिले।

Gun smuggling racket busted in Khakhnar  <a href=Burhanpur Madhypradesh" src="https://new-img.patrika.com/upload/2019/11/27/bu2805_5427870-m.jpg">
IMAGE CREDIT: patrika

3 साल की सजा काट चुका है आरोपी तरण

पुलिस ने अवैध हथियार बरामद कर आरोपी तरण सिंह पिता महेंद्र सिंह निवासी पाचौरी को गिरफ्तार कर उसके विरुद्ध मामला पंजीबद्ध किया। पूर्व में भी थाना शाहपुर में अवैध हथियार तस्करी में आरोप में 3 साल की सजा काट चुका है।

एक घंटा लगा बॉडी के नट बोल्ट खोलकर हथियार निकालने में
बुरहानपुर-देड़तलाई हाईवे पर नाकाबंदी में कुछनहीं मिला। लेकिन पुलिस की सूचना पक्की थी इसलिए गाड़ी को थाने पहुंचाया गया। पुलिस ने शंका के आधार पर गाड़ी की सीट के बॉडी के पूर्जे खोलना शुरू किए। पिछली सीट के नीचे नट बोल्ट खोले तो एक-एक कर 20 देशी पिस्टर निकलते गए।

खकनार थाना में अवैध हथियार के दर्ज मामले

12 जनवरी 19 को दो पिस्टल बरामद किया गया
10 मार्च 19 को 1 पिस्टल और 1 जिंदा कारतूस

6 अप्रैल 19 को 1 पिस्टल और 1 जिंदा कारतूस
15 अक्टूबर 19 को 1 पिस्टल

27 नवंबर 20 पिस्टल

15 से 20 हजार रुपए कीमत

पुलिस के मुताबिक एक पिस्टल की कीमत 15 से 20 हजार रुपए बताईहै। 20 हजार के हिसाब से 20 पिस्टल की कीमत 4 लाख रुपए है। सभी पिस्टल हस्तनिर्मित है। पुलिस अब आरोपी को रिमांडपर लेकर अवैध हथियार के संबंध में पूछताछ करेगी।

राजीव जैन
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned