Fraud - लोगों से पांच करोड़ ठगने वाले आरोपी ने उगले कई राज

जीशान ने पांच दिन की रिमांड में पुलिस को बताया कैसे डबल करता था पैसा
कॉलोनियां खरीदने में होता था उपयोग, एक आरोपी अब भी फरार

By: tarunendra chauhan

Updated: 15 Sep 2020, 05:29 PM IST

बुरहानपुर. नाइस टू इंडिया फर्जी आयुर्वेदिक कंपनी के नाम पर रुपए दोगुना करने का लालच देकर करोड़ों रुपए की हेराफेरी करने वाले आरोपी जीशान अंसारी की पुलिस रिमांड खत्म हो गई। लालबाग पुलिस ने आरोपी को जिला न्यायालय में पेश किया, जहां से कोर्ट ने खंडवा जेल भेज दिया। 5 दिनों की पुलिस रिमांड में आरोपी ने चिटफंड के कई राज पुलिस के सामने खोले। पुलिस को चिटफंड मामले में एक ओर मुख्य आरोपी की तलाश है।

लालबाग थाना प्रभारी अभिताभ प्रताप सिंह ने बताया कि चिटफंड मामले में गिरफ्तार आरोपी जीशान अंसारी को सोमवार जिला न्यायालय में पेश करने के बाद खंडवा जेल भेज दिया गया है। पुलिस पूछताछ के दौरान एक व्यक्ति का नाम सामने आया है, जो चिटफंड के रुपयों से कॉलोनियां काटता है। संभावना है कि चिटफंड की काली कमाई प्लाटों विक्रय के नाम पर सफेद होती थी, जीशान ने पुलिस रिमांड के दौरान कई खुलासे किए हैं। पुलिस अब एक-एक कर सभी मामलों की पड़ताल कर गिराह में शामिल अन्य आरोपियों की भी गिरफ्तारी करेगी। आरोपी के लैपटॉप और घर से जब्त किए गए दस्तावेजों में कुछ एजेंटों के नाम सामने आए हैं, जो लोगों से रुपए दोगुना करने का लालच देकर राशि जम करते थे। पुलिस ऐसे एजेंटों को नोटिस भेजकर पूछताछ के लिए बुला रही है।

एजेंटों को पुलिस बनाएगी गवाह
फर्जी कंपनी में कर्मचारी बनकर चिटफंड में एजेंट के रूप में काम करने वाले कर्मचारियों में कुछ एजेंटों की एज्युकेशन कक्षा 8वीं और 10वीं तक है। आरोपी जीशान ऐसे एजेंटों को लोगों से रुपए जमा करने के लिए कमीशन देता था। उन्हें चिटफंड के इस खेल की कोई जानकारी तक नहीं थी। पुलिस ऐसे एजेंटों को गवाह के रूप में भी शामिल करेगी। आरोपी ने शुरुआत में रुपए दोगुना करने का काम मजदूर वर्ग और मध्यमवर्गीय लोगों से शुरू किया। इसलिए पुलिस तक यह मामला भी देरी से पहुंचा। फरियादी बनकर आरोपी की मदद करने वाला एक आरोपी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। पुलिस जल्द ही गिरफ्तारी कर आरोपी के रिकॉर्ड में शामिल लोगों से पूछताछ कर अन्य खुलासे कर सकती है।

 

Show More
tarunendra chauhan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned