कोरोना के बाद बढ़ा रिश्वत का संक्रमण, 9 माह में लोकायुक्त के 22 मामले ट्रेस

- इंदौर जोन में लोकायुक्त की यह कार्रवाई
- दो दिन पहले नेपा एसडीएम, बाबू और लेखापाल सहित युवक पर भ्रष्टाचार का मामला हुआ दर्ज

By: ranjeet pardeshi

Updated: 26 Sep 2021, 12:46 PM IST

बुरहानपुर. रिश्वत का संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है। बुरहानपुर में दो दिन पहले रिश्वत मामले में चार लोगों पर केस दर्ज किया गया। लेकिन यह बुरहानपुर के लिए कोई नया मामला नहीं है। इसके पहले भी रिश्वत मामले में छोटे कर्मी से लेकर बाबू, डॉक्टर और प्रशासनिक अफसर तक घेरे में आए हैं।
कोरोना की पहली लहर के बाद लोकायुक्त पुलिस के सामने कई मामले आए। आंकड़े देखे तो जनवरी 2021 से अब तक 27 मामले भ्रष्टाचार के दर्ज किए जा चुके हैं। जिसमें 22 मामले रिश्वत के ट्रेस हुए। बाकी तीन छापामारी और दो पद के दुरुपयोग के दर्ज किए गए हैं। हालांकि यह पूरे आंकड़े इंदौर जोन के हैं। जबकि बुरहानपुर में दो मामले लोकायुक्त ने दो दिन पहले ही ट्रेस किए।
इन पर हो चुकी है कार्रवाई
लोकायुक्त पुलिस ने 22 सितंबर को दो मामले रिश्वत के ट्रेस किए। इसमें नेपानगर एसडीएम दीपक चौहान, कलेक्टोरेट में बाबू किशन कनेश, बाहरी युवक सूर्यपालसिंह पर भ्रष्टाचार का केस दर्ज किया। लोकायुक्त के मुताबिक जमीन की शिकायत के निराकरण के मामले में डेढ़ लाख रुपए की रिश्वत मांगी गई थी। दूसरा मामला खकनार में हुआ। जहां लेखापाल रामचरण पटेल को 30 हजार की रिश्वत लेते पकड़ा।
लोकायुक्त का पत्र मिलने पर प्रशासन करेगा कार्रवाई
एसडीएम, बाबू और लेखापाल पर प्रशासन की तरफ से भी कार्रवाई की जाएगी। हालांकि अभी प्रशासन को लोकायुक्त की तरफ से कोई पत्र नहीं मिला है। कलेक्टर प्रवीणसिंह ने कहा कि लोकायुक्त ने कार्रवाई की है। लेकिन हमें अभी इसका कोई पत्र नहीं मिला है। पत्र के आधार पर नियमानुसार जो कार्रवाई बनती है, वह की जाएगी।
कोई रिश्वत मांगे तो इस पर करें शिकायत
लगातार रिश्वत की शिकायते सामने आ रही है। कोई भी रिश्वत मांगे तो लोकायुक्त उप पुलिस अधीक्षक प्रवीणसिंह बघेल के 7000899809 पर शिकायत कर सकते हैं।
- इंदौर जोन में 9 माह में 27 मामले दर्ज हुए हैं। बुरहानपुर में जिन लोगों को भ्रष्टाचार के केस दर्ज किए गए हैं। उन्हें नोटिस जारी कर बुलाया जाएगा। उनके वॉइस सेंपल लिए जाएंगे। सोमवार तक प्रशासन को इस मामले के पत्र पहुंच जाएंगे।
- प्रवीणसिंह बघेल, उप पुलिस अधीक्षक, लोकायुक्त पुलिस

फोटो : लोकायुक्त पुलिस ने की है कार्रवाई। - फाइल फोटो

ranjeet pardeshi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned