शराब माफिया के घर चला प्रशासन का बुलडोजर, पिता सहित बेटों पर दर्ज मामले

- आबकरी एक्ट और शासकीय कार्य में बाधा का केस

By: Amiruddin Ahmad

Published: 24 Feb 2021, 10:17 AM IST


बुरहानपुर. अवैध शराब माफिया, गुंडा लिस्ट में शामिल अपराधि कालू उफज़् कालिया पासी के मकान पर प्रशासन ने बुलडोजर चलाकर ध्वस्त कर दिया। एंटी माफिया अभियान के तहत दौलतपुरा बाखल क्षेत्र में भारी पुलिस बल के साथ कार्रवाई की गई। परिवार की महिलाओं मकान तोडऩे की कार्रवाई का विरोध कर अधिकारियों को जमकर कोसा।
मंगलवार सुबह 11:30 बजे नगर निगम, राजस्व अमला 50 से अधिक पुलिस बल के साथ दौलतपुरा पहुंचा। बलवा सामग्री और सुरक्षा व्यवस्थाओं के साथ दौलतपुरा के बाखल पासी मोहल्ला पहुंचे।दोपहर 12 से 2:30 बजे तक जेसीबी से अवैध शराब माफिया के एक मंजिला मकान को तोडऩे की कार्रवाई की गई। तहसीलदार मुकेश काशिव ने बताया कि कालु उफज़् कालिया पिता बाबुलाल पासी ने बिना अनुमति के अवैध भवन का निमाज़्ण कर अतिक्रमण किया था। अपरिाध अवैध शराब माफिया होने के साथ ही अन्य अपराधिक प्रकरण भी दर्ज होने कलेक्टर के निदेज़्श पर एंटी माफिया अभियान के तहत अवैध निमाज़्ण को तोडऩे की कारज़्वाई की गई।निगम इंजीनियर गोपाल महाजन ने बताया कि 17 फरवरी को निगम द्वारा अवैध निमाज़्ण का आदेश जारी कर दिया गया था।
परिवार की महिलाओं ने किया विरोध
प्रशासन की कारज़्वाई का परिवार की महिलाओं ने विरोध किया। उसका कहना था कि यह मकान कालू पासी के नाम पर नहीं होने के बाद भी तोड़ा जा रहा है, खसरा दिखाने के बाद टीम ने इसे नकार दिया। सामान सहित महिलाओं को घर से बाहर निकालकर मकान पर बुलडोजर चला दिया गया। परिवार को प्रशासन ने करीब 30 मिनट तक घर का सामान निकालने का मौका दिया। परिवार के लोगों ने प्रशासन को सामने वाला कच्चा मकान पर कारज़्वाई करने की बात कही, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।
इन अपराधि में शामिल है पिता और बेटें
शिकारपुरा थाना प्रभारी राजेश दुबे ने बताया कि बाखल पासी मोहल्ले में रहकर अपराधि अवैध शराब बेचा करते थी। इनके नाम गुंडा लिस्ट में भी शामिल है।ज्यादातर आबकारी एक्ट 34/2 और 34 ए के ही मामले हैं। दो बेटे दीपक पासी और बंटी पासी जेल है।अपराधियों पर शासकीय कायज़् में बाधा डालने का भी प्रकरण है।

Amiruddin Ahmad
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned