ट्रेन के मूवमेंट से नहीं गिरा था चांदनी स्टेशन का भवन, इंजीनियर निलंबित

- डीआरएम के दौरे में यह कारणा आया सामने

By: Amiruddin Ahmad

Published: 28 May 2021, 10:21 AM IST

रहानपुर/नेपानगर. मध्य रेलवे के मुंबई-दिल्ली रेलवे लाइन पर नेपानगर के चांदनी स्टेशन पर भवन की आरसीसी छत गिरने के मामले में भुसावल मंडल के डीआरएम विवेक कुमार गुप्ता अपनी टीम के साथ जांच करने के लिए पहुंचे। प्राथमिक जांच में यह तथ्य सामने आए कि भवन गिरने का ट्रेन के मूवमेंट से कोई कनेक्शन नहीं है। मामले की जांच जोनस्तर पर शुरू हो गई है। प्राथमिक जांच के आधार पर रेलवे के निर्माण कार्य का सुपरविजन करने वाले वरिष्ठ अनुभाग अभियंता को निलंबित कर दिया गया है।
रेलवे द्वारा इस पूरे मामले में मध्य रेलवे जोन के अफसरों को जांच का का जिम्मा दिया गया है। गुरुवार दोपहर 12 बजे भुसावल मंडल की टीम जांच के लिए स्टेशन पर पहुंची थी। करीब 120 से अधिक टे्रनों को मैनुअल सिस्टम से ही हरी झंड़ी दिखाकर रवाना किया गया। हादसे में गिरी रेलवे स्टेशन भवन की छत को देखकर अधिकारियों से जानकारी लेकर तकनीशियन टीम को सिग्नल पैनल पहले शुरू करने के निर्देश दिए गए थे। बुरहानपुर की तरफ आने-जाने वाली सभी गाडिय़ां धीमीगति से गुजरी। हादसें के करीब 24 घंटे के बाद रेलवे तकनीशियों द्वारा सिग्नल को शुरू कर दिया गया। गुरुवार शाम को चांदनी स्टेशन पर बिना रुके गाडिय़ों का आवागमन शुरू हो गया।

Amiruddin Ahmad
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned