भ्रूण हत्या पर रोक लगाने के प्रयासों को और गंभीरता से लेने की जरूरत

भ्रूण हत्या पर रोक लगाने के प्रयासों को और गंभीरता से लेने की जरूरत

Editorial Khandwa | Updated: 02 Feb 2016, 11:46:00 PM (IST) Burhanpur, Madhya Pradesh, India

जिले में दो दिवसीय दौरे पर पहुंची मंत्री मायासिंहकुपोषण को दूर करने के लिए चला रहे सुपोषण अभियान को आगे और चलाने की बात कही

बुरहानपुर. महिला एवं बाल विकास मंत्री मायासिंह अपने दो दिवसीय दौरे पर मंगलवार शाम को बुरहानपुर पहुंची। उन्होंने ताप्ती रिट्रिट में पत्रकारवार्ता में सेक्स रेशो पर चिंता जताई और लोगों में जागरुकता लाने के साथ ही भ्रूण हत्या पर रोक लगाने के प्रयासों को और गंभीरता से लेने की बात कही।
    उन्होंने प्रदेश में चलाए जा रहे बेटी बचाओ आंदोलन को देश में अग्रणी बताया। वे बुधवार को शहर के लालबाग तथा शिकारपुरा सहित ग्रामीण क्षेत्र की आंगनवाड़ी केंद्रों का निरीक्षण करेंगी। मायासिंह ने कुपोषण को दूर करने के लिए चला रहे सुपोषण अभियान को आगे और चलाने की बात कही। और इसमें जनप्रतिनिधियों और अफसरकर्मियों से लगातार सहयोग लेकर इसे आगे भी जारी रखने की बात कही। इस मिशन में स्नेह सरोकार के माध्यम से कुपोषण से लड़ रहे जंग को लगातार आगे बढ़ाकर प्रदेश से कुपोषण को उखाडऩे के लिए अनवरत लगे रहने में आंगनवाडिय़ों की भूमिका को महत्वपूर्ण बताया। मंत्री सिंह ने कहा कि शिक्षा, संस्कार, सफाई की आंगनवाड़ी केंद्रों से शिक्षा दी जा रही है। मायासिंह ने मेनका गांधी के सुझाव की सराहना की।
शिकारपुरा नहीं, कहीं और जाकर देखो मेडम
जिले में आंगनवाडिय़ों को जब भी दिखाने की बात आती है तो एक मात्र शिकापुरा स्थित आंगनवाड़ी ही देखी जाती है। जबकि शहर में अधिकांश आंगनवाडिय़ां कार्यकर्ताओं के घरों से संचालित हो रही है।  चूल्हेे-चौकों के पास नन्हें बच्चे खेल रहे हैं। शहर में 90 फीसदी आंगनवाडिय़ों में बच्चे नहीं आते हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned