scriptExport resumes at Kandla port, Burhanpur expected to sell wheat worth | कांडला पोर्ट पर फिर निर्यात शुरू, बुरहानपुर का 50 लाख से अधिक का गेहूं बिकने की उम्मीद | Patrika News

कांडला पोर्ट पर फिर निर्यात शुरू, बुरहानपुर का 50 लाख से अधिक का गेहूं बिकने की उम्मीद

- इसलिए मंडी में दो दिन की हड़ताल नहीं की
- 10 गाड़ी लगभग अटकी है बुरहानपुर की
- 8453 क्विंटल गेहंू बुरहानपुर से हुआ निर्यात

बुरहानपुर

Updated: May 18, 2022 01:07:38 pm

बुरहानपुर. गेहूं निर्यात पर अचानक रोक लगने से बुरहानपुर के व्यापारियों का लगभग 50 लाख से अधिक का अनाज यहां अटक गया था। सरकार के आदेश होते ही यहां कांडला पोर्ट में गेहूं उतरना बंद हो गया था। इसके विरोध में मप्र सहित बुरहानपुर के व्यापारियों ने भी गेहूं की नीलामी से दूर रहने का निर्णय किया, लेकिन जब आदेश में संशोधन की खबर मिली तो हड़ताल नहीं की। उम्मीद है कि बुरहानपुर का माल भी जल्द यहां बिक जाएगा।
मप्र के बुरहानपुर से लगभग 8453 क्विंटल गेहूं निर्यात किया गया। भाव 2500 तक मिलने के कारण सरकारी खरीदी शून्य रही। लेकिन अचानक दो दिन पहले सरकार ने निर्यात पर रोक लगाने के आदेश आने से यहां हजारों गाडिय़ों की कतार लग गई। जिसमें बुरहानपुर से भी लगभग दस गाड़ी अटकी होने की बात सामने आई। जिसमें लगभग 60 लाख से अधिक का माल था। व्यापारियों ने कहा कि बीच के व्यापारी ने हमसे माल खरीदकर पोर्ट तक ले गया, लेकिन इसका भुगतान तभी होता जब पोर्ट पर गेहूं खाली हो जाता। लेकिन जब रोक लग गई तो हम भी नुकसानी में आ गए, क्योंकि वापस गाड़ी हमारे माथे आती, फिर यहां कम दाम में माल बेचना पड़ा, एक गाड़ी पर लगभग 2 लाख रुपए का नुकसान होता। इसलिए हहड़ताल का निर्णय था, लेकिन सरकार ने आदेश में संशोधन कर दिया है कि 13 मई के पहले आई गाडिय़ों का निर्यात हो सकेगा। बुरहानपुर से सभी गाड़ी 13 मई के पहले गई हुई है।
उल्लेखनीय है कि मप्र में गेहूं का सरकारी रेट 2015 रुपए क्विंटल था। कांडला पोर्ट में निर्यात के लिए इसके दाम 2500-2600 रुपए क्विंटल बिके। इसलिए व्यापारियों ने किसानों से गेहूं 2200-2350 के हिसाब से खरीदा। 250-300 रु क्विन्टल का भाड़ा देकर माल कांडला पोर्ट में भेजा।
भाव गिरे, 2175 रुपए बिका गेहूं
हड़ताल समाप्त होने के बाद मंगलवार को मंडी में गेहूं की खरीदी की गई, लेकिन व्यापारियों में वह उत्साह नहीं दिखा, जिसके चलते भाव में खासी गिरावट आ गई। 2200 के ऊपर बिकने वाला गेहूं अचानक 1900 से 2175 पर आ गया। 244 बोरी गेहंू की मंडी में बिकी।
- गेहूं की सरकारी खरीदी अब तक शून्य रही, 8 हजार क्विंटल से अधिक गेहूं बुरहानपुर के बाहर गया है।
- जयराम वानखेड़े, सचिव मंडी
- सरकार ने आदेश में संशोधन कर दिया है। कांडला पोर्ट पर गेहूं उतरना वापस शुरू हो गया है। 13 मई तक या उसके पहले आया गेहूं उतरेगा। इसलिए हड़ताल नहीं की।
संजय शाह, प्रवक्ता, अनाज व्यापारी संघ बुरहानपुर
Export resumes at Kandla port, Burhanpur expected to sell wheat worth more than 50 lakhs
Export resumes at Kandla port, Burhanpur expected to sell wheat worth more than 50 lakhs

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: बीजेपी ऐसे भिखारियों का हाथ पकड़कर खुद को बता रही महाशक्ति.. ‘सामना’ के जरिए फिर शिवसेना ने कसा तंजAmit Shah on 2002 Gujarat Riots: गुजरात दंगों पर SC के फैसले के बाद बोले अमित शाह, PM मोदी को इस दर्द को झेलते हुए देखा हैकेरल में राहुल गांधी के दफ्तर पर हुए हमले के बाद बड़ी कार्रवाई, DSP निलंबित, ADGP करेंगे मामले की जांच25 जून 1983, 39 साल पहले भारत ने रचा था इतिहास, लॉर्ड्स में वर्ल्ड कप जीतकर लहराया तिरंगाकौन हैं तपन कुमार डेका, जिन्हें मिली इंटेलिजेंस ब्यूरो की कमानपाकिस्तान की खुली पोल, 26/11 मुंबई हमले का मास्टर माइंड साजिद मीर जिंदा, ISI ने मोस्ट वांटेड आतंकी को बताया था मराMumbai News Live Updates: शिवसेना के पुणे शहर प्रमुख संजय मोरे ने खुलेआम दी धमकी, कहा- बागी विधायकों के दफ्तरों पर करेंगे हमला, किसी को नहीं छोड़ेंगेMaharashtra Political Crisis: एक्शन में शिवसेना! अयोग्य करार देने के लिए डिप्टी स्पीकर को भेजा 4 और MLA के नाम, 16 बागियों पर भी कार्रवाई की तैयारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.