सहारा इंडिया, जीएन गोल्ड, सांई प्रसाद सहित मैत्री कंपनी के डायरेक्टर, मैनेजर और कर्मचारियों  पर एफआइआर

- निवेशको के साथ की गई धोखाधड़ी
- पुलिस को मिली थी 211 शिकायतें

By: Amiruddin Ahmad

Published: 20 Jul 2020, 05:04 PM IST

बुरहानपुर. चिटफंड कंपनियों द्वारा निवेशकों के साथ करोड़ों रुपए की धोखाधड़ी करने की शिकायतें मिलने के बाद 4 थानों में 4 कंपनियों के खिलाफ धारा 420 और निवेशकों के संरक्षण अधिनियम के तहत मामला दर्ज हो गया। पुलिस ने सहारा इंडिया, जीएन गोल्ड, सांई प्रसाद प्रॉ. और मैत्री कंपनी के डायरेक्टर, मैनेजर सहित कर्मचारियों के खिलाफ प्रकरण बनाया है। पुलिस को 211 शिकायतें मिलने के बाद अन्य कंपनियों के खिलाफ भी जल्द कार्रवाई होगी।
जिले में चिटफंड कंपनियों द्वारा लंबे समय से रुपए डबल करने और अधिक ब्याज का लालच देकर निवेशकों के साथ करोड़ों रुपए की धोखाधड़ी करने का मामला सामने आ रहा था। पुलिस अधिक्षक राहुल लोधा के निदेज़्श पर शुक्रवार को जिलेभर के पुलिस थानों में चिटफंड कंपनियों की शिकायतों का निराकरण करने के लिए हेल्प डेस्क लगाकर निवेशकों की शिकायत दर्ज की गई थी। 6 थानों में 211 शिकायतें मिलने के बाद पुलिस ने जांच पड़ताल करते हुए 4 कंपनियों के खिलाफ धारा 420 और निवेशकों के संरक्षण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस चिटफंड कंपनियों के खिलाफ मिली शिकायतों में कई कंपनियों ने जिले से निवेशकों से करोड़ों रुपए की धोखाधड़ी की है। पुलिस अब कंपनियों की ओर से दिए गए कागज ,एफडी सहित मिलने वाले दस्तावेजों की तलाश कर जल्द आरोपियों को गिरफ्तार करेगी।
इन थानों में दर्ज हुए मामला
थाना कोतवाली
पुलिस ने फरियादी दिनकर केशव नेहते निवासी मालीवाड़ा की शिकायत पर मैत्री कंपनी पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया। आरोपी मैनेजर शैलेंद्र रमेश नारखेड़े, डायरेक्टर जनार्दन परगुलेख , जनरल मैनेजर लक्ष्मीकांत नर्वेकर, वर्षा मधुसुदन चेयरमेंन मैनेजिंग डायरेक्टर ठाणें महाराष्ट्र के खिलाफ अपराध क्रमांक 263/20 धारा 420,406 आईपीसी और निवेशकों के संरक्षण अधिनियम 200 की धाराओं में प्रकरण दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।
थाना नेपानगर
पुलिस ने सहारा इंडिया बैंक एवं इसकी अन्य शाखाओं के सभी कर्मचारियों के खिलाफ निवेशकों को अधिक ब्याज का लालच देकर धोखाधड़ी करने का प्रकरण दर्ज किया है। थाना प्रभारी जीतेंद्र यादव ने बताया कि चिटफंड कंपनियों की 129 शिकायतें मिलने के बाद जांच कर दोषियों के खिलाफ कारज़्वाई की जा रही है। सहारा इंडिया बैंक सहित शाखाओं के सभी कर्मचारियों में डायरेक्टर, मैनेजर, जनरल मैनेजर और अन्य पदों पर कायज़् करने वाले सभी लोगों को शामिल किया गया है। धारा 420.406 और निवेशकों के संरक्षण अधिनियम का प्रकरण बनाया है।
थाना गणपति नाका
पुलिस ने जीएन गोल्ड इंडिया लिमिटेड पर पर निवेशकों के साथ 5 सालों के अंदर रुपए डबल करने का लालच देकर धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज किया। आरोपियों में कंपनी सतनाम सिंह, बलवंत सिंह रंधावा निवासी नई दिल्ली, सुरेश अंबाराम चौधरी इंदौर, जीएस पटेल निवासी कसरावद खरगोन के खिलाफ धारा 420.406 और निवेशक संरक्षण अधिनियम की धाराओं में मामला दर्ज किया। अंकिता टॉकिज के सामने शंकर कंपलेक्स में जीएन गोल्ड कंपनी का कायाज़्लय चलाकर कर्मचारियों ने कई निवेशकों को रुपए डबल करने का लालच देकर धोखाधड़ी की है।
थाना खकनार
पुलिस ने सांई प्रसाद प्रॉपटीज़् लिमिटेड कंपनी पर रुपए डबल करने का लालच देकर निवेशकों के साथ धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया। पुलिस के अनुसार आवेदक बदीबाई गौरेलाल ने कंपनी में 50 हजार रुपए जमा किए थे। यह राशि अब तक कंपनी की ओर से वापस नहीं दी गई। रुपए डबल करने का लालच देने वाली सांई प्रसार कंपनी के आरोपी डायेक्टर बाला साहब भावनकर के खिलाफ पुलिस ने धारा 420.406 और अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया है।
- चिटफंड कंपनियों की शिकायतें मिलने के बाद थानों में कंपनियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर जांच शुरु कर दी गई है।
देवेंद्र यादव, सीएसपी बुरहानपुर

Amiruddin Ahmad
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned