बुरहानपुर पहुंचे सैयदना साहब, मौला-मौला गूंजा

- चार माह बाद फिर मौला का हुआ आगमन
- स्टेशन पर मौला मौला गूंजा
- संभावित सात दिन रहेंगे बुरहानपुर

By: ranjeet pardeshi

Published: 06 Mar 2021, 12:24 AM IST

बुरहानपुर की सरजमीं पर मौला का आगमन
- चार माह बाद फिर मौला का हुआ आगमन
- स्टेशन पर मौला मौला गूंजा
- संभावित सात दिन रहेंगे बुरहानपुर
बुरहानपुर. दाऊदी बोहरा समाज के 53वें दाई डॉक्टर सैयदना आलीकदर मुफद्दल सैफुद्दीन साहब शुक्रवार रात 11.11 बजे विशेष ट्रेन से मुंबई से बुरहानपुर पहुंचे। प्लेट फार्म नंबर एक पर उनकी गाड़ी रुकी। जहां मौला के कदम बुरहानपुर की सरजमीं पर पड़े। बैंड की धुन पर वे कार तक पहुंचे और यहां से कड़ी सुरक्षा के बीच दरगाह ए हकीमी की ओर रवाना हुए। उनके दीदार के लिए अनुयायी बाहर खड़े रहे जहां उन्हें देख मौला मौला गूंज उठा।
कोरोना को देखते हुए सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए। किसी को भी दीदार के लिए करीब नहीं आने दिया। स्टेशन पर दो घंटे पहले से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई। पर्दे लगाकर किसी को भी स्टेशन के मुख्य द्वार को छोड़कर अंदर प्रवेश नहीं दिया। जगह-जगह पुलिस बल तैनात कर दिया गया।
अक्टूबर में आए थे मौला साहब
27 जून 2019 को विशेष टे्रन से बुरहानपुर आने के बाद पिछले साल अक्टूबर में कार से आए थे। फिर सैयदना साहब मुंबई से विशेष ट्रेन से बुरहानपुर आए हैं। लेकिन इस बार भी कोरोना संक्रमण का दौर चलने के कारण उनके सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए। उनकी सुरक्षा के लिए लगे कर्मी दस दिन पहले से क्वॉरंटीन थे, वे ही उनके करीब गए।
बुरहानपुर में होगी परीक्षा, 500 अनुयायी आए
सैयदना साहब की विशेष ट्रेन में 800 अनुयायी साथ आए हैं। इसमें 300 उनके सुरक्षा के तौर पर है, बाकी 500 यहां परीक्षा देने आए हैं। शनिवार से सूरत जामिया विश्वविद्यालय से संबंद्ध दाऊदी बोहरा समाज की धार्मिक परीक्षा शुरू होगी। यह परीक्षा पांच दिन तक चलेगी। प्रतिदिन ढाई से तीन घंटे की यह परीक्षा रहेगी। सैयदना साहब की उपस्थिति में विद्यार्थियों से धार्मिक प्रश्न पूछे जाएंगे। इसमें कुरआन ए पाक सहित अन्य दीनी तामिलों की जानकारी लेंगे।

ranjeet pardeshi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned