एक-एक पौधा नई पीढ़ी के लिए वरदान साबित होगा

 मेक्रोविजन में चला पत्रिका हरित प्रदेश पौधरोपण अभियान। संचालक आनंद चौकसे और मंजूसा चौकसे ने खुद पौधे लगाए और पत्रिका की पहल को अनुकरणीय निरूपित किया।

बुरहानपुर. बच्चों में उत्साह और हर कोई पर्यावरण बचाने के लिए लालायित दिखा। माहौल कुछ ऐसा बना कि क्या बड़े और छोटे सभी के हाथ हरियाली की इबारत लिखने के लिए आगे बढ़ गए। बच्चों ने खुशी-खुशी पौधे लगाकर पर्यावरण का महत्व जाना तो गुरुजनोंं ने भी इसकी सुरक्षा का संकल्प लिया। मौका था पत्रिका के पौधरोपण अभियान का। इसकी शुरुआत बुरहानपुर के मेक्रो विजन एकेडमी से की गई। जहां स्कूल परिसर में पौधरोपण किया गया। संचालक आनंद चौकसे और मंजूसा चौकसे ने खुद पौधे लगाए और पत्रिका की पहल को अनुकरणीय निरूपित किया।

 


Macro vision burhanpur Plantation drive























हर व्यक्ति बने भागीदार
संचालक आनंद चौकसे ने कहा कि पेड़ हमारे रक्षक हैं। पर्यावरण के संतुलन का आधार हैं। पत्रिका ने इनके संवर्धन व संरक्षण की नेक पहल शुरू की है। इसमें सभी को भागीदार बनना चाहिए। पत्रिका की ओर से जाग्रति फैलाने के लिए हमराह कार्यक्रम चलाया। इसका सफल संचालन हुआ लोगों में जाग्रति बढ़ी। नेकी की दीवार भी बहुत अच्छा कार्यक्रम था। अब स्कूल के माध्यम से पौधरोपण कर रहे हैं। निश्चित रूप से एक-एक पौधा आने वाली पीढ़ी के लिए वरदान साबित होगा। 



प्रकृति का संरक्षण एवं संवर्धन अनिवार्य
मंजूसा चौकसे ने कहा कि प्रकृति समस्त जीवों के जीवन का मूल आधार है। प्रकृति का संरक्षण एवं संवर्धन जीव जगत के लिए बेहद ही अनिवार्य है। प्रकृति पर ही पर्यावरण निर्भर करता है। गर्मी, सर्दी, वर्षा आदि सब प्रकृति के संतुलन पर निर्भर करते हैं। यदि प्रकृति समृद्ध एवं संतुलित होगी तो पर्यावरण भी अच्छा होगा और सभी मौसम भी समयानुकूल संतुलित रहेंगे। यदि प्रकृति असंतुलित होगी तो पर्यावरण भी असंतुलित होगा और अकाल बाढ़, भूस्खलन, भूकम्प आदि अनेक प्रकार की प्राकृतिक आपदाएं कहर ढाने लगेंगी। प्राकृतिक आपदाओं से बचने और पर्यावरण को शुद्ध बनाने के लिए पेड़ों का होना बहुत जरूरी है। पेड़ प्रकृति का आधार हैं। पेड़ों के बिना प्रकृति के संरक्षण एवं संवर्धन की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि जागरुक कार्यक्रम बहुत अच्छा कदम है। खर्चा कुछ नहीं है और आने वाली पीढ़ी के लिए बहुत बेहतर पर्यावरण देेंगे। हम सभी ने अपने स्तर पर यह अभियान चलाना चाहिए।

Editorial Khandwa
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned