गर्मी का सितम, कोई छाते से बचा किसी ने बांधे स्कॉर्फ

 43 पर पहुंचा तापमान न्यूनतम 17 पर दर्जगर्मी से राहत पाने के लिए लोग दुकानों पर पहुंचकर शीलतपेय पदार्थों का सहारा ले रहे हैं

By: Editorial Khandwa

Published: 02 Apr 2016, 11:36 PM IST


बुरहानपुर. मार्च गुजर जाने के बाद अप्रैल में गर्मी अपना असर दिखाने लगी है। शनिवार को आसमान से आग बरसी। किसी ने छाते से अपने आप को बचाया तो कोईस्कॉफबांधकर निकला। युवक चष्मे और रूमाल का सहारा ले रहे हैं।दोपहर 12 से 4 बजे तक यह नजारे दिखना अब आम हो गए।
    शनिवार को अधिकतम तापमान 43 डिग्री पर दर्ज किया गया, जबकि न्यूनतम 17 पर आंका गया। लोग धूप से बचने के लिए तरह-तरह के जतन कर रहे हैं। अप्रैल की शुरुआत होते ही पारा 42 के ऊपर तक पहुंच रहा है।
धूप की लपटों से बचने के लिए लोग घरों में ही दुबक कर रहना पसंद कर रहे हैं। इससे सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। जरूरी काम के लिए ही लोग बाहर नजर आ रहे हैं।  
शीतलपेय पदार्थों की बिक्री बढ़ी
 गर्मी शुरू होते ही शहर में जगह-शीतलपेय पदार्थों की भी बिक्री बढ़ गई है। गर्मी से राहत पाने के लिए लोग दुकानों पर पहुंचकर शीलतपेय पदार्थों का सहारा ले रहे हैं। तेज धूप होने से ठंडे का व्यवसाय अब ओर जोर पकडऩे लगा है।  
लोगों की सेहत पर असर
मौसम में हो रहे बदलाव से लोगों की सेहत पर असर पड़ रहा है। बच्चों से लेकर बड़े तक सर्दी, खासी की बीमारी से ग्रस्त हो रहे हैं। प्रतिदिनि जिला अस्पताल में 200 के करीब मरीज इससे पीडि़त होकर पहुंच रहे हैं। चिकित्सकों का कहना है कि मौसम परिवर्तन के कारण लोगों के स्वास्थ्य खराब हो रहा है। 
Editorial Khandwa
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned