थमे रहेगें बसों के पहिए, कल से हड़ताल पर रहेगे चालक, परिचालक

- एडीएम को दिया ज्ञापन

By: Amiruddin Ahmad

Published: 30 Jun 2020, 12:14 AM IST

बुरहानपुर. कोरोना संक्रमण के चलते तीन माह से बसों का परिवहन बंद होने के बाद 1 जुलाई से बसें शुरू होने की उम्मीद थी, लेकिन अब चाकल,परिचालक संघ ने अपनी मांगों को लेकर प्रदेशभर में हड़ताल शुरू कर दी है। 7 जुलाई तक मांगों का निराकरण नहीं होने पर आगे अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू होगी।
सोमवार को कलेक्टर कार्यालय पहुंचे सारथी चालक, परिचालक मजदूर यूनियन ने एडीएम रोमानुस टोप्पो को 4 मांगों का ज्ञापन पत्र दिया। संगठन ने मिलिंद चौधरी ने बताया कि कोरोना संकट के चलते 1100 चालक, परिचालकों के सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा है। पूर्व में भी प्रशासन को आर्थिक सहायता के लिए अवगत कराया गया। संघ यह मांग करता है कि बसों के चालक और परिचालकों को 3 माह का वेतन 7500 रुपए प्रतिमाह की दर से मुख्यमंत्री राहत कोष, श्रम विभाग मंत्रालय, परिवाहन मंत्रालय से दिलाया जाए। केंद्र सरकार से जारी सहायता राशि भी चालक और परिचालकों को मिले। गरीबी रेखा, संबल योजना, बीमारी सहायता योजना में पंजीयन कराया जाए और 17 फरवरी 2014 केा मुख्यमंत्री द्वारा महापंचायत में की गई चालक, परिचालक आयोग के गठन एवं 10 करोड रुपए वर्षिक फंड देने की घोषणा पर अमल किया जाए। प्रदेशभर में चालक, परिचालक यूनियन 1 से 7 जुलाई तक हड़ताल कर आंदोलन कर रहे है।
कुछ समय ओर थमें रहेगे बसों के पहिए
देश में अनलॉक होने के बाद अब तक बसों का परिवहन शुरू नहीं हुआ। संभावित 1 जुलाई से जिले में बसों का परिवहन शुरू हो सकता था, लेकिन अब ७7जुलाई तक चालक और परिचालकों की हड़ताल होने से बसों के पहिए कुछ दिनों तक ओर थमें रहेगे। बस परिवहन शुरू नहीं होने के कारण ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के लोग आवागमन नहीं कर पा रहे है।

Amiruddin Ahmad
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned