सिंगल यूज प्लास्टिक बंद करने के लिए देशभर में साइकिल से निकला यह युवक

- पीएम मोदी के भाषण से हुआ प्रभावित
- 17 सितंबर गांधीनगर गुजरात से शुरू की थी यात्रा
- 4 लाख स्कूल बच्चों को किया जागरुक
- 9 हजार किमी की अब तक की यात्रा
- महाराष्ट्र की ओर रवानागी

बुरहानपुर. मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में रहने वाले ब्रजेश शर्मा जीवन में 15 अगस्त 2019 का दिन व्यापक परिवर्तन लेकर आया। पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा सिंगल यूज प्लास्टिक का बहिष्कार करने के लिए की गई स्पीच से ब्रजेश शर्मा इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने विदेश की एक सॉफ्टवेयर कंपनी की लाखों रुपए की नौकरी छोड़ दी।
बता दें कि मुरैना का युवा बृजेश शर्मा टीसीएस कंपनी में जॉब करता था। लाखों रुपए के पैकेज की नौकरी उसने सिर्फ इसलिए छोड़ दी ताकि वह लोगों को सिंगल यूज प्लास्टिक के नुकसान से बता सके। उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर गांधी नगर से अपनी साइकिल यात्रा शुरू की। इस युवा ने गांधी नगर से उदयपुर, श्रीधाम, अजमेर, पुष्कर, पुटली, जयपुर, हरियाणा, दिल्ली, मथुरा व आगरा होते हुए मुरैना तक की 9 हजार किमी की साइकिल यात्रा करते हुए शनिवार को बुरहानपुर पहुंचा। जहां एक निजी स्कूल में युवक ने बच्चों को प्लास्टिक के दुष्परिणाम बताए।

प्लास्टिक से आमजन, पर्यावरण, पृथ्वी को होने वाले नुकसान को लेकर जागरुकता रैली, वर्कशॉप तो हो रही हैं। लेकिन मल्टीनेशनल विदेशी कंपनी की नौकरी छोड़कर इस युवक ने साइकिल यात्रा शुरू की और 9 हजार किमी साइकिल चलाकर शनिवार को बुरहानपुर पहुंचा।

यह दे रहे संदेश
बृजेश शर्मा ने बताया कि आज पॉलीथिन सिर्फ हमारे या देश के लिए नहीं बल्कि दुनियाभर के लिए नुकसानदेह है। समुद्र तटों पर तेजी से बढ़ता प्लास्टिक कचरा जलीय जीव.जंतुओं के जीवन के लिए भी खतरा बन गया है। आज पृथ्वी पर तेजी से बढ़ता प्लास्टिक कचरा पर्यावरण के लिए सबसे बड़ा खतरा बन गया है।
बृजेश ने कहा कि स्वस्थ जीवन के लिए प्लास्टिक का उपयोग हमें बंद करना होगा। हमें आगे आने वाली पीढिय़ों को प्रदूषण से बचाने के लिए एवं स्वस्थ जीवन के सिंगल यूज़ प्लास्टिक का उपयोग बंद कर देना चाहिए। यह पर्यावरण के लिए घातक है। इसका पूर्णतया बहिष्कार करें।

modi
ranjeet pardeshi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned