Big problem - आधार कार्ड अपडेशन के लिए ग्रामीणों को करना पड़ रहा 20 किमी का सफर

ग्रामीण क्षेत्रो में नहीं आधार केंद्र, ग्रामीण हो रहे परेशान

By: tarunendra chauhan

Published: 17 Sep 2020, 12:08 PM IST

बुरहानपुर. शासन की योजनाओं का लाभ लेने के लिए जरूरी हो चुके आधार कार्ड को बनवाने एवं अपडेशन के लिए ग्रामीणों को लंबा सफर तय करना पड़ रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में आधार सेंटर नहीं होने के कारण लोगों को शहर आकर दिनभर अपने नंबर आने का इंतजार करना पड़ता है। इस समय आधार के सभी केंद्रों पर लोगों की भीड़ लगी हुई है, कई केंद्रों पर सुबह 7 बजे से ही लोग अपने नंबर लगा रहे हैं।

मंगलवार को ग्राम पंचायत सिरपुर के 15 से अधिक लोग आधार अपडेशन के लिए तहसील कार्यालय पहुंचे। अनिता बाई ने कहा कि पहले सिंधखेड़ा में आधार केंद्र था, लेकिन वह भी बंद हो गया। गांव में आधार बनाने और अपडेट करने वाला कोई नहीं होने से हम मजदूर होकर 20 किमी दूर बुरहानपुर आना पड़ रहा है। यहां पर सुबह से ही नंबर लगे होने से वापस लौटना पड़ता है। यहां दिनभर लोगों की भीड़ जमा रहती है, ऐसे में दिनभर अपने नंबर का इंतजार करते हैं। राशन दुकान से लेकर पंचायत में भी अब आधार कार्ड मांग रहे हैं, आधार कार्ड देने पर वह अपडेट के लिए बोल रहे है। गांव के कई लोग ऐसे है तो नए आधार बनवाने पहुंच रहे हैं।

आधार अपडेट होना जरूरी
वर्तमान में स्कूलों में एडमिशन का कार्य चल रहे हैं। इससे विद्यार्थियों को आधार कार्ड की जरूरत पड़ रही है। यही वजह है कि सेंटर पर दिनभर लोगों की भीड़ जमा हो रही है। वहीं पंचायत में भी सभी शासकीय योजनाओं के कार्यों में आधार कार्ड जरूरी है, पुराना आधार कार्ड होने के बाद अब अपडेट होना अनिवार्य कर दिया, जिसमें नाम, नंबर और जन्म तारीख मांगी जा रही है। गांव में आधार सेंटर नहीं होने से ग्रामीण शहर आकर नंबर लगा रहे हैं । दिनभर परेशान होने के साथ ही एक दिन की मजदूरी और किराया सहित आधार कार्ड का चार्ज लग रहा है।

tarunendra chauhan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned