रुपये की कमजोरी ने एनआरआई निवेशकों को दिया सस्ती प्रॉपर्टी खरीदने का मौका

रुपये की कमजोरी ने एनआरआई निवेशकों को दिया सस्ती प्रॉपर्टी खरीदने का मौका

Manish Ranjan | Publish: Sep, 22 2018 02:06:09 PM (IST) | Updated: Sep, 22 2018 02:06:10 PM (IST) बिजनेस एक्सपर्ट कॉलम

राकेश यादव, सीएमडी, अंतरिक्ष इंडिया ग्रुप

 

नई दिल्ली। रुपये में गिरावट सरकार के लिए जरूर चिंता का विषय है, लेकिन प्रवासी भारतीय (एनआरआई) के लिए यह बड़ा मौका ले कर आया है। वे इस मौके का फायदा उठाकर कम रकम में भी अपनी पसंद की प्रॉपर्टी खरीद सकते हैं। ऐसा डॉलर के मुकाबले रुपये के एक्सचेंज से अधिक पैसा मिलने से संभव होगा। एक रिपोर्ट के मुताबिक, अब तक रुपये में पिछले साल के मुकाबले करीब 11 फीसदी की गिरावट आई है, जबकि रियल एस्टेट में कीमतों में ज्यादा बढ़ोतरी नहीं हुई है, यानी आज की तारीख में निवेशकों को प्रॉपर्टी खरीदने पर 12-15 फीसदी का फायदा हो रहा है।

50 लाख के फ्लैट पर करीब 7 लाख की बचत

रुपये में गिरावट के बाद प्रवासी भारतियों के लिए प्रॉपर्टी खरीदना सस्ता हो गया है। इसके चलते अभी उनको 50 लाख के एक 2बीएचके फ्लैट के लिए करीब 43 लाख रुपये ही चुकाना होगा। इस तरह एनआरआई को अभी करीब 15 फीसदी तक कम कीमत में घर मिल रहे हैं। साथ ही, सुस्त सेल्स की वजह से प्रॉपर्टी मार्केट भी ठंडा है। इसका भी फायदा एनआरआई उठा सकते हैं।

इसलिए भी बढ़ी दिलचस्पी

लगभग पिछले दो वर्षों का समय रियल एस्टेट क्षेत्र के लिए कठिन रहा है लेकिन इस साल प्रॉपर्टी की खरीद-फरोख्त में तेजी देखी जा रही है। बाजार में रेडी टू मूव प्रॉपर्टी के ऑप्शन उपलब्ध होने के साथ रेरा और जीएसटी आने से भी विदेशी निवेशकों का रुझान भारतीय बाजार में तेजी से बढ़ा है। वे मुख्य रूप से दिल्ली-एनसीआर और मुंबई की प्रॉपर्टी में निवेश कर रहे हैं। पिछले दो-तीन महीनों से एनआरआई का रुझान प्रॉपर्टी में निवेश की तरफ एक बार फिर से बढ़ा है। यह रियल एस्‍टेट सेक्‍टर के लिए भी अच्‍छा है। आने वाले त्‍योहारी सीजन में इससे मांग को और बल मिलेगा।

निवेश से पहले इन बातों का जरूर ख्याल रखें

एनआरआई के लिए सही प्रॉपर्टी की पहचान करना थोड़ा मुश्किल होता है। ऐसे में सही प्रॉपर्टी और विश्वसनीय डेवलपर का चयन करने के लिए पहले ऑनलाइन और ऑफलाइन रिसर्च जरूर करें। इसके साथ ही निवेश करने से पहले लोकेशन का चयन कर लें। जिस शहर में प्रॉपर्टी खरीदनी है वहां क्‍या रेट चल रहा है यह भी पता करें। किसी कहने या बहकावे में आकर प्रॉपर्टी में निवेश करने से बचें। हो सके तो निवेश से पहले पार्टी या जमीन से जुड़े कागजातों की सलाहकार से अच्छी तरह जांच करा लें और रजिस्ट्रेशन की लागत को जान लें।

 


खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned