नोटबंदी से बढ़ी करदाताओं की संख्या, प्रत्यक्ष कर संग्रह भी बढ़ा

यह पहली बार है कि प्रत्यक्ष करों का योगदान अप्रत्यक्ष करों से कहीं अधिक है।

By:

Updated: 15 Nov 2018, 12:03 PM IST

बिजनेस

नई दिल्ली। सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्स (सीबीडीटी) के अध्यक्ष ने कहा कि नोटबंदी ने देश में करदाताओं की संख्या बढ़ाने में मदद की है। उन्होंने कहा कि पिछले साल करदाताओं का योगदान 52 फीसदी था और अप्रत्यक्ष करों का योगदान 48 फीसदी था। यह पहली बार है कि प्रत्यक्ष करों का योगदान अप्रत्यक्ष करों से कहीं अधिक है। उन्होंने दावा किया कि पैसा बैंक खाते में आया था, इसलिए हमारे लिए यह ट्रैक करना आसान था कि कितने लोगों के पास है। साथ ही जमा किए गए टैक्स रिटर्न के बिना नकदी जमा की गई है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned