बिजनेस की पहचान के लिए ऐसे चुनें सही नाम

बिजनेस को टारगेट कस्टमर्स के बीच मशहूर करने के लिए आपको उसके लिए एक सही नाम का चुनाव करना चाहिए। यह नाम ऐसा होना चाहिए जो मार्केट में आपके ब्रांड का प्रतिनिधित्व कर सके।

By: सुनील शर्मा

Published: 18 Jun 2021, 02:20 PM IST

बिजनेस को सफल बनाने के लिए एक सही नाम चुनना सबसे जरूरी निर्णयों में से एक है। एक एंटप्रेन्योर को सिर्फ कानूनी डॉक्यूमेंट्स पर लिखे जाने के लिए ही बिजनेस के नाम की जरूरत नहीं होती बल्कि इसकी जरूरत इसलिए होती है ताकि लोग आपको जान सकें और आपके ब्रांड की पहचान बन सके। एक सही नाम वही होता है जो छोटा हो, सुनने में अच्छा हो और जिसे याद रखा जा सके। बिजनेस का नाम ऐसा होना चाहिए जो आपके प्रोडक्ट या सर्विस से कनेक्ट हो सके या आपके ब्रांड मेसेज को मजबूती दे सके।

यह भी पढ़ें : साइबर धोखाधड़ी से बचाने के लिए केंद्र सरकार ने शुरू की नेशनल हेल्पलाइन 155260

एक अच्छा नाम कस्टमर्स में भरोसा पैदा करता है और साथ ही उन्हें आपके प्रोडक्ट को आसानी से और जल्दी पहचानने में मदद करता है। अगर आप अपने बिजनेस का नाम किसी मशहूर जगह, चीज आदि पर रखते हैं तो वह आपके बिजनेस के लिए फायदेमंद हो सकता है। बिजनेस के लिए नाम तलाशते समय आप एक ऐसा नाम सोचें जो बोलने में आसान हो और बता सके कि आपका बिजनेस क्या करता है। इससे आपके कस्टमर्स को आपके बिजनेस के बारे में समझने में मदद मिलेगी। इन कुछ महत्वपूर्ण टिप्स की मदद से आप भी अपनी कंपनी के लिए एक बेहतरीन नाम ढूंढक़र शुरुआत कर सकते हैं -

रिसर्च करें
अपने बिजनेस के लिए अच्छा नाम ढूंढते समय ऐसे नाम लाएं जो आपके प्रोडक्ट या सर्विस के पूरक बनें। इसके बाद आप रिसर्च करके सुनिश्चित करें कि आपकी इंडस्ट्री में और कोई तो उस नाम का इस्तेमाल नहीं कर रहा है। इससे आपको एक अलग और अनोखा नाम ढूंढने में मदद मिलेगी और आप अपने प्रतिस्पर्धियों से अलग अपनी खुद की पहचान बना सकेंगे। बिना रिसर्च किए अगर आप कोई भी नाम चुन लेंगे तो आपको बाद में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इससे कस्टमर्स के बीच आपके बिजनेस की छवि खराब हो सकती है।

यह भी पढ़ें : महामारी का लंबा दौर और मूल्यों पर संकट

फीडबैक लें
जब आप अपने बिजनेस के लिए किसी नाम को चुनें तो उसके बारे में अपने दोस्तों, परिवार और लोगों से बात करें। उनसे पूछें कि जो नाम आपने चुना है, उसे सुनकर उन लोगों के दिमाग में क्या आता है। उस नाम को सुनकर वह किस तरह के बिजनेस के बारे में सोचते हैं। इस तरह से आप उन समस्याओं को देख सकते हैं जो शायद आपसे छूट गई हों। इन समस्याओं को हल करके आप अपने बिजनेस के लिए एक सही नाम की तलाश पूरी कर सकते हैं। अत: अपने बिजनेस का नाम रखने की प्रक्रिया में आसपास के लोगों का फीडबैक लेना जरूरी है।

जल्दबाजी न करें
कंपनी का नाम तय करते समय आपको यह हमेशा याद रखना चाहिए कि यह एक ऐसी चीज है जिसमें आप शायद ही कभी बदलाव करेंगे। यह एक ऐसी चीज है जिसके बारे में आपको वाकई गहराई से सोचना चाहिए। इसलिए आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आप अपने बिजनेस का नाम फाइनल करने से पहले उसके बारे में सोचने और सभी चीजों को एक साथ लाने में अपना पूरा समय लें। आपको किसी भी हालत में जल्दबाजी करने की जरूरत नहीं है। कंपनी का नाम ऐसी चीज है जो हमेशा के लिए रहेगा। अत: जल्दबाजी न करें।

एडवर्टाइजिंग के बारे में सोचें
आपकी कंपनी का नाम खुद में और खुद का एक विज्ञापन ही है। आप किस तरह से विज्ञापन करना चाहेंगे, यह आपको नाम चुनने में मदद करेगा। आपके बिजनेस का नाम ऐसा होना चाहिए जो बिना किसी खास विज्ञापन के खुद से ही आपके बिजनेस के बारे में बता दे। इससे आपके टारगेट कस्टमर्स को आपके बिजनेस के बारे में जानने के लिए ज्यादा मशक्कत नहीं करनी पड़ेगी।

ट्रेडमार्क जरूर करवाएं
एक बार जब आप अपने बिजनेस के लिए नाम तय कर लें तो उसके बाद उसे बचाने के लिए ट्रेडमार्क एप्लीकेशन फाइल करना न भूलें। नाम की तलाश पूरी होने और यह पता चलने के बाद कि आपका ट्रेडमार्क खुद में अनोखा है, आप ट्रेडमार्क एप्लीकेशन फाइल कर सकते हैं। इसके लिए आपको फाइलिंग फीस भी देनी होगी। ट्रेडमार्क फाइल करने और उस मार्क के मिलने के बाद यह सुनिश्चित हो जाता है कि उस नाम को इस्तेमाल करने का हक सिर्फ और सिर्फ आपको ही है।

एसईओ क्षमता परखें
अपने बिजनेस क्षेत्र की एसईओ क्षमता को परखें और देखें अगर उसमें से कुछ बेहतर बाहर आ सकता हो। इसके बाद इसे आकर्षक और अनोखा बनाने की कोशिश करें। कुछ ऐसा कि जब लोग उसे देखें या सुनें तो उसे आसानी से याद रख सकें। हालांकि, एक अच्छा नाम ढूंढने के लिए जरूरी है कि आपको यह पता हो कि किन क्षेत्रों को पूरी तरह से नजरअंदाज कर सकते हैं। इन चीजों पर ध्यान न देकर आप बिजनेस के लिए एक बेहतरीन नाम पा सकते हैं।

वर्ड लिस्ट बनाएं
एक सही नाम तय करने के लिए सबसे पहले आप उसके लिए एक टोन तय करें जैसे क्लासिक, मॉडर्न, फन, इमोशनल आदि। उसके बाद अपने सेकेंडरी ब्रांडिंग एलिमेंट्स लिख लें जैसे आइडियाज, वैल्यूज, इमोशंस, वैल्यू प्रपोजिशन आदि। यह दोनों स्टेप पूरे करने के बाद अपने दिमाग को खंगालें और नाम के लिए शब्द खोजें। अपने पसंदीदा शब्दों, कंसेप्ट्स और आइडियाज की लिस्ट बना लें जो बिजनेस से संबंधित हों। उन्हें तब तक व्यवस्थित करते रहें, जब तक कि आपको कुछ अच्छा न मिल जाए। एक अच्छा नाम रखने के लिए आप दो शब्दों के हिस्सों को भी मिला सकते हैं।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned