पान मसाला ग्रुप के 31 ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी, 400 करोड़ रुपये के काले कारोबार का खुलासा

सीबीडीटी के अनुसार, आयकर विभाग ने गुरुवार को समूह के कानपुर, दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद और कोलकाता के ठिकानों पर छापेमारी मारी है। 24 फर्जी खातों के बारे में पता लगाया है।

By: Mohit Saxena

Published: 30 Jul 2021, 10:51 PM IST

नई दिल्ली। आयकर विभाग (Income Tax Department) ने उत्तर भारत में स्थित ‘पान मसाला’ बनाने वाले ग्रुप (Pan Masala Group) के कई ठिकानों पर छापेमारी मारी है। इस छापेमारी में 400 करोड़ रुपये से अधिक के अवैध लेन-देन (Unaccounted Transactions) के बारे में पता लगाया गया है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से संबंधित सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज यानी सीबीडीटी (CBDT) ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी।

ये भी पढ़ें: पर्सनल लोन लेने वालों की संख्या में 11.9% का इजाफा, आरबीआई ने बताई ये वजह

सीबीडीटी के अनुसार, आयकर विभाग ने गुरुवार को समूह के कानपुर, दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद और कोलकाता के कुल 31 ठिकानों पर छापेमारी मारी है। पान मसाला बनाने वाला यह ग्रुप रियल स्टेट से भी जुड़ा हुआ है। छापेमारी में ग्रुप के 400 करोड़ रुपये से अधिक के अवैध लेन-देन के बारे में पता लगा है। इस बयान में ग्रुप की पहचान नहीं बताई गई है।

रियल स्टेट कारोबार से तगड़ा मुनाफा

एक बयान के अनुसार, ग्रुप को पान मसाला की बिक्री और रियल स्टेट कारोबार से तगड़ा मुनाफा हो रहा था। ग्रुप ने मुनाफे की इस कमाई को फर्जी कंपनियों के जरिए दोबारा से कोरोबार में निवेश कर दिया।

ये भी पढ़ें: केवाईसी में आय का प्रमाण न दिया तो बंद हो जाएगा आपका डीमैट खाता, ग्राहकों को ईमले के जरिए दी जा रही है सूचना

115 फर्जी कंपनियों का खुलासा

आयकर विभाग ने छापेमारी के दौरान 52 लाख रुपये कैश और सात किलोग्राम सोना भी बरामद करा है। आरोपी ग्रुप ने फर्जी कंपनियों की मदद से देशभर में अपना कारोबार फैलाया था। इन फर्जी कंपनियों की मदद से तीन साल के अंदर बैंकों से करीब 226 करोड़ रुपये का लोन लेकर रियल स्टेट के कारोबार में लगाया। विभाग ने अपनी जांच में ग्रुप की ऐसी 115 फर्जी कंपनियों और इनके 24 फर्जी खातों के बारे में पता लगाया है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned