Railway ने दी यात्रियों को नई सौगात, सालभर बाद फिर शुरू की ये सुविधा

-300 रुपए में मिलेगा डिस्पोजेबल बेडरोल
-फिलहाल चुनिंदा स्टेशनों पर ही है सुविधा
-पिछले साल कोरोना के चलते लगाई थी रोक

 

By: भूप सिंह

Published: 16 Feb 2021, 04:24 PM IST

नई दिल्ली। रेलवे लगातार ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों की सुख-सुविधाएं बेहतर करने में जुटा है। अब रेलवे ने यात्रियों के लिए एक बड़ी योजना का ऐलान किया है। दरअसल, अब रेवले यात्रियों को सफर के दौरान बिस्तर और कंबल फिर से देने जा रहा है। इसके रेलवे ने एक जर्म फ्री डिस्पोजेबल बेडरोल (Germ Free Disposable Bedroll) तैयार किया है।

आप भी उठाएं फायदा, इस सरकारी स्कीम में लड़कियों को मिलते हैं 36000 रुपए!

300 रुपए में मिलेगा सबकुछ
कोरोना की वैक्सीन आने के बाद अब जिंदगी धीरे-धीरे पटरी पर लौटने लगी है। इस बीच रेलवे ने फैसला किया कि दिल्ली सहित कई बड़े स्टेशनों पर यात्री जर्म फ्री डिस्पोजेबल बेडरोल (Germ Free Disposable Bedroll) खरीद सकेंगे। इसकी कीमत निर्धारित की गई है 300 रुपए। इसके तहत यात्रा को एक कंबल, दो चादर, तकिया और कवर, मास्क, टूथ ब्रश, पेस्ट, कंघी, मास्क, पेपर शाप, सैनिटाइजर और बिस्तर को साथ ले जाने के लिए बैग मिलेगा। अगर यात्री केवल कंबल लेना चाहता है तो उसका जार्च 150 रुपए चुकाना होगा।

अब दो मिनट में मिलेगी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी, 20 मिनट में क्लेम

अभी चुनिंदा स्टेशनों पर ही है ये सुविधा
उत्तर रेवले के महाप्रबंधक ने सोमवार को बताया कि नई दिल्ली रेवले स्टेशन पर इस सुविधा की शुरुआत की गई है। अजमेरीगेट और पहाड़गंज दोनों और इसके काउंटर बनाए गए हैं। इसके साथ हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर भी यह सुविधा शुरू की गई है। रेलवे अगले सप्ताह तक इसे पुरानी दिल्ली और गाजियाबाद रेलवे स्टेशन पर शुरू करने की योजना बना रहा है। अल्ट्रा वायलेट आधारित सैनेटाइजर मशीन भी रेलवे स्टेशन पर लगाई गई हैं। उम्मीद जताई जा रही है कि इससे रेवले को प्रति वर्ष 1 करोड़ रुपए का अतिरिक्त फायदा होगा।

आलू -प्याज और अनाज ने मोदी सरकार को दी बड़ी राहत, आम लोगों की जेब पर बोझ कम

कोरोना संक्रमण के चलते लगी थी रोक
पहले एयर कंडीसनर कोच में सफर करने वाले यात्रियों को एक कंबल, 2 चादर, एक तकिया और तौलिया दिया उपलब्ध कराया जाता था। कोरोना संक्रमण के चलते ये सुविधा पिछले साल मार्च में बंद कर दी गई थी। तकरीबन एक साल बाद रेलवे ने फिर से इस सुविधा को चालू करने का फैसला किया है।

Show More
भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned