इंफोसिस से विशाल सिक्का का इस्तीफा, 7 फीसदी तक लुढ़का कंपनी का शेयर

इंफोसिस के एमडी और सीईओ विशाल सिक्का ने सीईओ पद से इस्तीफा दे दिया हैं।

By: manish ranjan

Published: 18 Aug 2017, 10:13 AM IST

नई दि‍ल्‍ली. इंफोसि‍स के सीईओ और एमडी वि‍शाल सि‍क्‍का ने शुक्रवार को इस्‍तीफा दे दि‍या। सिक्का की जगह अब यूबी प्रवीण राव को एंटरिम सीईओ बनाया गया है। इस्तीफे की खबर के बाद इंफोसिस के स्टॉक में 7 फीसदी तक की गिरावट दर्ज की गई । सिक्का के इस्तीफे के पीछे कंपनी के बोर्ड और फाउंडर्स में चल रहा विवाद माना जा रहा है।

क्या है इस्तीफे की वजह

बीएसई को एक फाईलिंग के दौरान कंपनी ने कहा की, सिक्का ने कंपनी के क्षमता पर विश्वास जताया हैं लेकिन अपने इस्तीफा के बारे मे भी उन्होनें बताया कि पिछले कुछ महीने में लगातार व्यक्तिगत रूप से नकारात्मकता से विचलन होना बताया हैं।

सावधानीपूर्वक जांच की एक और सीरीज में उल्लेखनीय आरोपो की कोई योग्यता नहीं मिली हैं। बोर्ड ने उन समीक्षको की भी निंदा की हैं जिन्होने प्रमोशन किया हैं और प्रदर्शन के लिए झूठे आरोपों को बढ़ावा देने की मांग की हैं। इससे कर्मचारियों के मनोबल को भी नुकसान पहुंचा हैं और कंपनी के सीईओ और के रूप में भी नुकसान हुआ हैं।

बोर्ड ने नए मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एग्जीक्यूटीव ऑफिसर को अप्वाइंट करने की प्रक्रिया के शुरू कर दिया हैं। इसके लिए नए कैंडिडेट के बारे मे सोचा जा रहा हैं।

इंफोसिस के संस्थापक एन आर नारायण मूर्ति ने सिक्का के साथ मुलाकात की और कहा कि उन्होनें महसूस किया कि सिलिकॉन वैली का आयात सीटीओ सामग्री अधिक था और सीईओ पद के लिए सही नही था। बताया जा रहा था कि मूर्ति और सिक्का के बीच मतभेद चल रहे थे। यह दूसरी बार है जब इंफोसिस के नेतृत्व मे संकट आया हैं, क्योंकि हाल ही में यह खबर आई थी कि संस्थापक सदस्यों ने शीर्ष प्रबंधन से सेवानिवृत्त होने की बात कही थी।

 

कौन है यूबी प्रवीण राव

 अभी प्रवीण राव इंफोसि‍स के चीफ ऑपरेटिंग ऑफि‍सर  पद पर है। इसके अलावा वह इंफोसिस बीपीओ के चेयरपर्सन भी हैं। उन्‍होंने 1986 में कंपनी ज्‍वाइन की। राव के पास 30 साल से ज्‍यादा का समय का अनुभव है। 

 

manish ranjan Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned