Petrol Diesel Price Today : पेट्रोल-डीजल के दामों में आज नहीं हुआ फेरबदल, जनता को मिली राहत

Petrol-Diesel Price Today on 04 October 2021 : सरकारी तेल कंपनियों ने आज पेट्रोल तथा डीजल की कीमतों में किसी प्रकार की कोई बढ़ोतरी नहीं की है हालांकि रविवार को कंपनियों ने पेट्रोल के दामों में 25 पैसे प्रति लीटर तथा डीजल के दामों में 30 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी। माना जा रहा है कि आने वाले समय में ओपेक देश तेल का उत्पादन घटा सकते हैं जिससे कच्चा तेल महंगा हो सकता है।

By: सुनील शर्मा

Published: 04 Oct 2021, 09:42 AM IST

Petrol-Diesel Price Today on 04 October 2021 : नई दिल्ली। लगातार चार दिनों तक पेट्रोल तथा डीजल के भावों में हुई बढ़ोतरी के बाद आम जनता को आज राहत मिली है। सरकारी तेल कंपनियों ने आज पेट्रोल तथा डीजल की कीमतों में किसी प्रकार की कोई बढ़ोतरी नहीं की है हालांकि रविवार को कंपनियों ने पेट्रोल के दामों में 25 पैसे प्रति लीटर तथा डीजल के दामों में 30 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी।

पेट्रोल की कीमत आज दिल्ली में 102 रुपए 39 पैसे प्रति लीटर हो गई है जबकि डीजल की कीमत 90 रुपए 77 पैसे प्रति लीटर तय की गई है। इसी प्रकार मुंबई में पेट्रोल की कीमत 108 रुपए 43 पैसे प्रति लीटर, कोलकाता में 103 रुपए 7 पैसे प्रति लीटर, चेन्नई में 100 रुपए प्रति लीटर, भोपाल में 110 रुपए 88 पैसे प्रति लीटर, बेंगलुरू में 105 रुपए 95 पैसे प्रति लीटर, पटना में 105 रुपए 24 पैसे प्रति लीटर, चंडीगढ़ में 98 रुपए 56 पैसे प्रति लीटर तथा रांची में 97 रुपए 14 पैसे प्रति लीटर हो गई है।

यह भी पढ़ें : Gold Silver Price Today: खुशखबरी! सोना-चांदी हुआ सस्ता, जानिए आज कीमतों में आई कितनी गिरावट

डीजल की कीमत भी मुंबई में 98 रुपए 48 पैसे प्रति लीटर, कोलकाता में 93 रुपए 87 पैसे प्रति लीटर, चेन्नई में 95 रुपए 31 पैसे प्रति लीटर, भोपाल में 99 रुपए 73 पैसे प्रति लीटर, बेंगलुरू में 96.34 पैसे प्रति लीटर, पटना में 97 रुपए 10 पैसे प्रति लीटर, चंडीगढ़ में 90 रुपए 50 पैसे प्रति लीटर तथा रांची में 95 रुपए 83 पैसे प्रति लीटर हो गई हैं।

यह भी पढ़ें : Petrol Diesel Price: साल 2021 में 70 से अधिक बार बढ़ें पेट्रोल के दाम, जानिए आपके शहर में क्या है भाव

जल्द हो सकती है पेट्रोल-डीजल की अन्तरराष्ट्रीय कीमतों में वृद्धि
आज चार अक्टूबर को तेल उत्पादक देशों ओपेक की बैठक होगी। संभावना जताई जा रही है कि इस बैठक में कच्चे तेल का उत्पादन घटाने पर आम सहमति बन सकती है हालांकि अभी कुछ भी निश्चित तौर पर नहीं कहा जा सकता। परन्तु यदि तेल के उत्पादन में कटौती की जाती है तो इसका असर तेल की अन्तरराष्ट्रीय कीमतों पर भी पड़ेगा और कच्चा तेल महंगा होगा। ऐसे में देश की जनता पर भी बोझ पड़ सकता है।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned