आरबीआई ने दी अनुमति, एटीएम से नकद निकासी शुल्क जल्द बढ़ेगा

केंद्रीय बैंक ने एक अधिसूचना में कहा कि यह संशोधित दर 1 जनवरी, 2022 से प्रभावी होगी।

By: Mohit Saxena

Published: 18 Jul 2021, 09:47 PM IST

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने हाल ही में बैंकों को ऑटोमेटेड टेलर मशीन (ATM) पर शुल्क 20 से बढ़ाकर 21 रुपये प्रति लेनदेन करने की अनुमति दी है। उपभोक्ता जब अपनी मुफ्त एटीएम निकासी सीमा को समाप्त कर लेंगे, तब ग्राहकों पर बैंक ये शुल्क लगाएगा। केंद्रीय बैंक ने एक अधिसूचना में कहा कि यह संशोधित दर 1 जनवरी, 2022 से प्रभावी होगी।

ये भी पढ़ें: श्रीनगर: झेलम नदी में चलेगी न्यूजीलैंड की लग्जरी 'बस बोट', फाइबरग्लास वाली नाव कई सुविधाओं से होगी लैस

एटीएम से पांच मुफ्त लेनदेन

ग्राहक अपने बैंक के एटीएम से हर माह पांच मुफ्त लेनदेन के लिए पात्र हैं। इसमें वित्तीय और गैर-वित्तीय लेनदेन दोनों शामिल हैं। सीमा से अधिक, उन्हें प्रत्येक एटीएम लेनदेन के लिए 21 रुपये की अतिरिक्त राशि का भुगतान करना होगा। नकद निकासी के लिए अन्य बैंक के एटीएम का उपयोग करने वाले ग्राहकों के लिए मेट्रो शहरों में तीन और गैर-मेट्रो केंद्रों में पांच मुफ्त एटीएम लेनदेन की अनुमति है।

सात साल बाद लिया फैसला

आरबीआई ने अधिसूचना में कहा कि लगभग सात साल बाद एटीएम लेनदेन के शुल्क में बढ़ोतरी हो रही है। एटीएम लेनदेन के लिए इंटरचेंज शुल्क संरचना में अंतिम परिवर्तन अगस्त 2012 में करा गया था। वहीं ग्राहकों द्वारा देय शुल्कों को अंतिम बार अगस्त 2014 में संशोधित किया गया था।

एटीएम की तैनाती और रखरखाव शुल्क की बढ़ती लागत को देखकर केंद्रीय बैंक ने लेनदेन शुल्क बढ़ाने का फैसला किया है। जून 2019 में आरबीआई ने एटीएम लेनदेन के लिए इंटरचेंज संरचना पर विशेष ध्यान देने, एटीएम शुल्क और शुल्क के पूरे दायरे की समीक्षा करने के लिए समिति का गठन करा था।

ये भी पढ़ें: अडानी एयरपोर्ट होल्डिंग्स का हेडक्वार्टर मुंबई नहीं अहमदाबाद होगा, बड़े लेवल पर जिम्मेदारी में भी फेरबदल

इंटरचेंज शुल्क भी बढ़ाया

हितधारक संस्थाओं और ग्राहक सुविधा की अपेक्षाओं को संतुलित करने की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए, आरबीआई ने वित्तीय लेनदेन के लिए ₹15 से ₹17 और गैर-वित्तीय लेनदेन के लिए ₹6 से ₹5 तक इंटरचेंज शुल्क भी बढ़ाया है। नई दरें 1 अगस्त, 2021 से लागू हो सकेंगी। इंटरचेंज शुल्क बैंकों द्वारा क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड से भुगतान प्रक्रिया करने वाले व्यापारी से लिया जाने वाला शुल्क है।

reserve bank of india
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned