खत्म होगा लंबा इंतज़ार, इस तारीख से हर जेब में मिलेंगे 200 रु. के नोट

जानकारों की मानें तो इससे बैंकों का बोझ काफी बढ़ जाएगा। बैंकों के लिए ये समय काफी खराब चल रहा है।

By:

Published: 04 Jan 2018, 01:02 PM IST

नई दिल्ली। पिछले साल यानि 2017 के अगस्त महीने में लॉन्च हुए 200 रुपये के नोट अब थोड़े और इंतज़ार के बाद आप सभी के जेब में मौज करेंगे। बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक चटख पीले रंग के चमचमाते 200 रुपये के नोटों की सप्लाई बढ़ाने जा रहा है। आरबीआई ने इसके लिए सभी बैंकों को उनके एटीएम में बदलाव करने के लिए आदेश भी जारी कर दिए हैं। बैंकों को जारी किए गए आरबीआई के आदेशों का पालन करने के लिए बैंकों को करीब 1 हज़ार करोड़ रुपये से भी ज़्यादा की भारी-भरकम रकम खर्च करनी पड़ सकती है। ये सभी जानकारियां हमें सूत्रों से मिली है।

जानकारों की मानें तो इससे बैंकों का बोझ काफी बढ़ जाएगा। बैंकों के लिए ये समय काफी खराब चल रहा है। क्योंकि मौजूदा दौर में भारतीय बैंक बैड लोन से बहुत दुखी हुए पड़े हैं।

आरबीआई के आदेशों के बाद एक बैंकर ने कहा, 'आरबीआई ने बैंकों और एटीएम मैन्युफैक्चरर्स से कहा है कि वे जल्द से जल्द 200 रुपये के लिए एटीएम में बदलाव करें। हमें 2000 रुपये के नोट के साथ 200 रुपये के नोट की भी जरूरत है। आरबीआई का यह कदम अच्छा है।' लेकिन बैंकर ने एक बात और कही जो 200 रुपये के नोट का लंबे समय से इंतज़ार कर रहे लोगों को थोड़ा और परेशान कर सकती है। बता दें कि आरबीआई के आदेशों का पालन करने में पूरा सहयोग भी दिया जाए तो 200 रुपये के नोट सुचारू रूप से मार्केट में आने के लिए 5-6 महीने का समय और ले सकते हैं।

बता दें कि भारत के अधिकतर एटीएम मशीन जापान की हिताची कंपनी बनाती है। लिहाज़ा हिताची के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि, 'इस बार पूरी योजना के साथ एटीएम में बदलाव किया जाएगा। पहले हम एटीएम क्लस्टर की पहचान करेंगे और उसके बाद उनमें 200 रुपये के नोट के लिए बदलाव किए जाएंगे। अगर जल्दबाजी में यह काम किया जाता है तो इससे कॉस्ट अनुमान से अधिक हो जाएगी। हालांकि, हम पूरी योजना के साथ यह काम करने जा रहे हैं।'

rbi
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned