scriptSBI to auction two NPA accounts to recover dues of over Rs 313 crore | SBI अगले माह दो खातों को करेगा नीलाम, 313 करोड़ रुपये से अधिक बकाया राशि को जुटाने की कोशिश | Patrika News

SBI अगले माह दो खातों को करेगा नीलाम, 313 करोड़ रुपये से अधिक बकाया राशि को जुटाने की कोशिश

locationनई दिल्लीPublished: Jul 07, 2021 04:47:00 pm

Submitted by:

Mohit Saxena

भद्रेश्वर विद्युत की नीलामी के लिए आरक्षित मूल्य 100.12 करोड़ रुपये और जीओएल ऑफशोर के लिए 51 करोड़ रुपये निर्धारित करा है।

state bank of india
state bank of india

नई दिल्ली। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank Of India) ने अगले माह दो गैर-निष्पादित खातों (नॉन परफॉर्मिग एसेट्स, NPA) को नीलाम करने का फैसला लिया है।

बैंक के नोटिस के अनुसार, SBI बैंक इस नीलामी से 313 करोड़ रुपये से अधिक की बकाया राशि को जुटाने की कोशिश करेगी। यह नीलामी ऑनलाइन रखी गई है। ई-नीलामी 6 अगस्त को होगी। ई-नीलामी के लिए रखे गए दो खातों में भद्रेश्वर विद्युत प्राइवेट लिमिटेड (BVPL) का 262.73 करोड़ रुपये कर्ज बकाया है। वहीं जीओएल ऑफशोर लिमिटेड (GOL Offshore) पर 50.75 करोड़ रुपये बकाया है।

ये भी पढ़ें: अंतरिक्ष की सैर होगी सबके लिए सुलभ, Amazon के बाद जेफ बेजोस का अगला कदम

वित्तीय संस्थाओं को बिक्री के लिए रखते हैं

SBI की नोटिस के अनुसार वित्तीय परिसंपत्तियों पर बैंक की नीति के संदर्भ में, नियामक दिशानिर्देशों के अनुरूप, हम इन खातों को वित्तीय संस्थाओं को बिक्री के लिए रखते हैं। नियमों और शर्तों पर,भद्रेश्वर विद्युत की नीलामी के लिए आरक्षित मूल्य 100.12 करोड़ रुपये और जीओएल ऑफशोर के लिए 51 करोड़ रुपये निर्धारित करा है।

क्या कहा बैंक ने?

इसके साथ SBI ने योग्य उम्मीदवारों को बैंक के साथ एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (expressions of interest) जमा करने और नॉन-डिस्क्लोजर एग्रीमेंट (non-disclosure agreement) निष्पादित करने के बाद तुरंत इन संपत्तियों की जांच के लिए कहा है।

ये भी पढ़ें: Gold silver Price Today : सोने में तेजी और चांदी गिरावट, जानिए 10 ग्राम गोल्ड का रेट

एसबीआई के अनुसार हम बिना कोई कारण बताए किसी भी स्तर पर प्रस्तावित बिक्री के साथ आगे नहीं बढ़ने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं। गौरतलब है कि बीवीपीएल की स्थापना 2007 में ओपीजी समूह द्वारा प्रवर्तित एक विशेष प्रयोजन वाहन के रूप में की गई थी। इसके पास बिजली और इस्पात क्षेत्रों में काफी अनुभव है। ICRA (Investment Information and Credit Rating Agency) ने अप्रैल 2019 में बैंक सुविधाओं पर बड़ी रेटिंग को 2,062.40 करोड़ रुपये की कंपनी को नॉट कोऑपरेटिंग श्रेणी में स्थानांतरित कर दिया है।

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.