ऑनलाइन शॉपिंग करते समय ऐसे पहचाने प्रोडक्ट असली है या नकली

त्योहार का सीजन शुरू हो गया है। इस सीजन में कई ई-कॉमर्स कंपनी ग्राहकों को लुभाने के लिए भारी डिस्काउंट और ऑफर्स दे रहे हैं। नए कपड़े, उपहार और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों से लेकर फर्नीचर, ऑटोमोबाइल और घर के नएपन तक सब कुछ पर इस समय शानदार ऑफर मिलेंगे।

By: Shaitan Prajapat

Published: 16 Oct 2020, 03:40 PM IST

त्योहार का सीजन शुरू हो गया है। इस सीजन में कई ई-कॉमर्स कंपनी ग्राहकों को लुभाने के लिए भारी डिस्काउंट और ऑफर्स दे रहे हैं। नए कपड़े, उपहार और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों से लेकर फर्नीचर, ऑटोमोबाइल और घर के नएपन तक सब कुछ पर इस समय शानदार ऑफर मिलेंगे। ऐसे में आप भी इन फेस्टिव सेल के दौरान शॉपिंग करने का मन बना रहे हैं, यह खबर आपके लिए काम की हो सकती है। आज आपको कुछ महत्वपूर्ण शॉपिंग टिप्स बताने जा रहे है। अगर इनको ध्यान में रखकर आप अपने आपको ऑनलाइन होने वाले फर्जीवाड़े से बचा सकेंगे। आज आपको बताएंगे कि आप किस प्रकार सही और गलत सामान की पहचान कर सकते है।

यह भी पढ़े :— क्या आपका क्रेडिट स्कोर गिर रहा है, ये करे उपाय, तुरंत होगा फायदा


इस तरह के फर्जीवाड़ा से बचे
फेस्टिव सीजन में Amazon और Flipkart सहित बहुत सारी ई-कॉमर्स कंपनी ग्राहकों को भारी डिस्काउंट और ऑफर्स दे रहे हैं। इस बीच लोग भी जमकर खरीदारी कर रहे हैं। ऑनलाइन खरीदारी में अक्सर देखा जाता है कि कई बार ग्राहकों को नकली सामान भी दे दिया जाता है। साल 2018 में हुए एक सर्वे के अनुसार, कई ई-कॉमर्स कंपनियों की वेबसाइट से एक-तिहाई से ज्यादा नकली प्रोडक्ट की बिक्री की गई थीं। इसलिए आप थोड़ा सा ध्यान देंगे तो इस तरह के फर्जीवाड़ा से आसानी से बच सकते है।

यह भी पढ़े :— ग्राहकों के लिए SBI कार्ड के ग्राहकों शानदार ऑफर, निवेशक हो रहे मालामाल

लिंक के जरिए शॉपिंग ना करें
आमतोर पर देखा जाता है कि ज्यादातर फर्जीवाड़ा WhatsApp या किसी अन्य मैसेजिंग ऐप के जरिए ही की जाती है। आप कहीं सोशल साइट पर किसी ई-कॉमर्स कंपनी के सामान का लिंक देखते हैं तो उसकी खरीदारी से बचें। आप Flipkart या Amazon से सामान खरीद रहे है तो ऐप से जाकर लें इसके साथ ही रिव्यूज भी जरूर चेक करें।

QR कोड का रखें ध्यान
नकली प्रोडक्ट से बचने के लिए आपको QR कोड और होलोग्राम को देखना चाहिए। इलेक्ट्रॉनिक और FMCG कंपनियां नकली प्रोडक्ट से बचाव के लिए एक खास तरह का QR कोड और होलोग्राम अपने प्रोड्क्ट पर लगाती है। इस कोड से आप असली और नकली चीजों की पहचान कर सकते है। इसके अलावा नकली प्रोडक्ट की पहचान के लिए फूड रेगुलेटर FSSAI के Smart Consumer एप की भी मदद ली जा सकती है।

यह भी पढ़े :— शख्स को पीठ पर हुई खुजली तो, JCB ने ऐसे खुजाई, देखें मजेदार वीडियो


भारी डिस्काउंट से बचे
ऑनलाइन खरीददारी करते समय हमेशा ध्यान रखें कि अगर कोई कंपनी 70-80 फीसदी तक किसी सामान में डिस्काउंट दे रहा है तो वह नकली हो सकता है। इसलिए भारी छुट के लालच में ना आकर असली चीज ही खरीदें।

IMEI नंबर जरूर देखें
यह तो सभी जानते है कि हर एक प्रोडक्ट का एक मॉडल नंबर होता है। इस मॉडल नंबर को जिस भी ई-कॉमर्स कंपनी से सामान ले रहे हैं उसकी वेबसाइट पर डालकर देंखे। इसके साथ ही प्रोडक्ट की ऑफिशियल वेबसाइट से भी इसी मॉडल नंबर की डिटेलस निकालें। अगर ऑनलाइन मोबाइल खरीद रहे हैं, तो बॉक्स के पर लिखे IMEI नंबर को देखें और प्रोडक्ट को खरीदने से पहले इसे ब्रांड की ऑफिशियल वेबसाइट पर उस मॉडल के दिए गए IMEI नंबर से मिलाएं।

Show More
Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned