वैकल्पिक ईंधन से चलने वाले वाहनों की तकनीक विकसित करें : गडकरी

Kamal Rajpoot

Publish: Sep, 07 2017 06:34:00 (IST)

Car
वैकल्पिक ईंधन से चलने वाले वाहनों की तकनीक विकसित करें : गडकरी

गडकरी ने सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चर्स (एसआईएएम) के 57वें वार्षिक सम्मेलन में कहा, नई प्रौद्योगिकी में आर्थिक व्यवहारिकता है।

केंद्रीय परिवहन मंत्रनितिन गडकरी ने गुरुवार को जोर देते हुए कहा कि ऑटोमोबाइल उद्योग को इलेक्ट्रिक और बायो-ईंधन जैसे वैकल्पिक ईंधनों से चलने वाले वाहनों की प्रौद्योगिकी विकसित करनी चाहिए। उन्होंने ऑटो उद्योगों को आगे आकर देश की सार्वजनिक यातायात प्रणाली में निवेश करने की भी सलाह दी।

गडकरी ने सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चर्स (एसआईएएम) के 57वें वार्षिक सम्मेलन में कहा, नई प्रौद्योगिकी में आर्थिक व्यवहारिकता है। चलिए हम अगले 25 वर्ष के बारे में योजना बनाते हैं, मैं मजबूती से ऑटोमोबाइल सेक्टर से सार्वजनिक यातायात एवं इलेक्ट्रिक बाईक एवं कार के निर्माण में निवेश के लिए आग्रह करता हूं।

उन्होंने कहा, मैं ऑटोमोबाइल कंपनियों से वैकल्पिक ईंधन के लिए विविधता लाने का आग्रह करता हूं। सरकार वैकल्पिक ईंधन के तौर पर दूसरी पीढ़ी के इथेनॉल को लाने पर विचार कर रही है। डीजल से चलने वाले वाहनों के निर्माण को रोकने का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा कि इसमें काफी ज्यादा आयात शुल्क लगता है और प्रदूषण की मात्रा बढ़ती है। सरकार इसे कम करने के लिए प्रतिबद्ध है।

गडकरी ने कहा कि सरकार की प्रदूषण एवं उच्च मात्रा में पेट्रोल, डीजल पर आयात की नीति शीशे की तरह साफ है। इन आयातित ईंधन के विकल्प और आयात शुल्क को कम करने के लिए बांस का इस्तेमाल कर दूसरी पीढ़ी के ईंधन इथेनॉल और सीएनजी को विकल्प के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है।


इलेक्ट्रिक सेगमेंट के पोर्टफोलियो को बढ़ाते हुए भारत के प्रमुख इंजीनियरिंग ग्रुप Escorts लिमिटेड ने निर्यात एवं घरेलू बाजार के लिए भारत का पहला इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर पेश किया है। इसके अलावा कंपनी ने दो और ट्रैक्टर्स लॉन्च किए है। ये सभी ट्रैक्टर्स न्यू एस्कॉर्ट ट्रैक्टर सीरीज (NETS) के तहत उतारे गए है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned