scriptHow To Find Car Engine Seized Common Symptoms Details and Tips | Engine Seized Alert: इन 4 संकेतों को भूल कर भी न करें नज़रअंदाज़, सीज़ हो सकता है कार का इंज़न | Patrika News

Engine Seized Alert: इन 4 संकेतों को भूल कर भी न करें नज़रअंदाज़, सीज़ हो सकता है कार का इंज़न

Car Engine Seized: कार इंजन के सेहत ही देखभाल करना बेहद ही जरूरी होता है, अन्यथा छोटी सी लापरवाही किसी बड़ी समस्या को जन्म दे सकती है। यहां पर उन 4 सामान्य संकेतों (Symptoms) के बारे में बताया जा रहा है जिसे आप इंजन के सीज होने का अलार्म समझ सकते हैं।

नई दिल्ली

Updated: December 27, 2021 05:05:37 pm

कार ड्राइव करते समय अचानक से रूक जाए और आपको पता चले कि कार का इंज़न सीज़ हो गया है, इससे बुरा कुछ और नहीं हो सकता है। कार का इंजन सीज़ हो जाना न केवल आपकी मुश्किलें बढ़ाता है बल्कि आपकी जेब भी ढीली कर देता है। ऐसी स्थिति में कई बार केवल एक ही विकल्प बचता है कि पूरा इंजन ही रिप्लेस किया जाए, लेकिन ये बहुत ही खर्चीला सौदा है।

car_engine_seized-amp.jpg
Car Engine Seized


ऐसा नहीं है कि आपकी कार का इंजन अचानक से चलते हुए सीज़ हो जाता है, बल्कि इस स्थिति में पहुंचने से पहले वो कई संकेत देता है ताकि आप समय रहते उनमें सुधार कर इंजन की लाइफ़ को बेहतर बना सकें। कार इंजन उसके दिल जैसा होता है, जिसका निरंतर सही ढंग से काम करना बेहद ही जरूरी है, यदि इसके परफॉर्मेंस में रुकावट आई तो समझिए कि इंजन फेल होने में देर नहीं लगती। बहरहाल, आज हम आपको अपने इस लेख में उन 4 मुख्य संकेतों के बारे में बताएंगे जो कि इंजन के सीज़ होने से पहले आपकी कार देती है। तो आइये जानते हैं उन ख़ास इंडिकेशन के बारे में-

1)- इंजन लाइट का ब्लिंक करना:

आज के समय में तकरीबन हर कार में नई तकनीक और फीचर्स का इस्तेमाल किया जा रहा है और सभी कारों में इंज़न हेल्थ इंडिकेटर्स भी दिए जाते हैं। जो कि इंजन में आने वाली किसी भी आपातकालिन समस्याओं के बारे में इंजन लाइट ब्लिंक कर के संकेत देता है। इंस्ट्रूमेंट कंसोल में दिए जाने वाले इस 'चेक इंजन लाइट' पर नज़र रखना बहुत जरूरी है। यदि ये लाइट जल रही होती है ये सबसे बड़ा संकेत है कि आपकी कार के इंजन में कुछ समस्या है और बिना इस दिक्कत को दूर किए आप कार बिल्कुल भी ड्राइव न करें। ऐसी स्थिति में तत्काल सर्विस सेंटर से संपर्क करें और इंजन की जांच करवाएं।


2)- अलग आवाज (नॉकिंग साउंड्स) आना:

कार ड्राइव करते समय हमेशा इंजन से आने वाली आवाज पर ध्यान देना चाहिएं। यदि इंजन में पर्याप्त ऑयल या ल्यूब्रिकेंट न हो तो क्रैंकशाफ्ट और पिस्टन रॉड के बीच तेजी से घर्षण होता है, जो कि नॉकिंग साउंड उत्पन्न करता है। शुरुआत में ये समस्या बहुत ही हल्की प्रतीत होती है, लेकिन यदि समय रहते इसका उपाय न किया जाए तो ये न केवल इरिटेटिंग हो जाता है बल्कि क्रैंकशाफ्ट को भी डैमेज कर सकता है। क्रैंकशाफ्ट और पिस्टन रॉड में आई खराबी के चलते आपका इंजन भी बंद हो सकता है।

3)- कमजोर एक्सेलरेशन:

ये एक बेहद ही आसान संकेत है, जिसे बहुत जल्द ही पहचाना जा सकता है। जब आप कार ड्राइव करते हैं और एक्सेलरेशन (Acceleration) के समय यदि आपकी कार उतना स्पीड नहीं पकड़ रही है, जितना कि नार्मल कंडिशन में चलती थी तो इससे आप समझ सकते हैं कि कार के इंजन को जांच की जरूरत है। एक्सलेटर पैडल पर एक्स्ट्रा प्रेशर देने की कत्तई जरूरत नहीं होती है, यदि आपको महसूस हो रहा है कि कार का इंजन पूरी उर्जा से परफॉर्म नहीं कर पा रहा है तो इसे एक गंभीर संकेत माने और इंजन की जांच करवाएं।


4)- जलती हुई गंध या धुएं का बनना:

ये एक बेहद ही आपात स्थिति होती है और ख़ासकर ये संकेत तब मिलता है जब आप उपर दिए गए तीनों संकेतों को नज़रअंदाज़ कर चुके होते हैं। इसे अंतिम चेतावनी के रूप में समझें, यदि आपकी कार के इंजन से जलने की गंध या फिर धुआं निकल रहा हो तो ये एक गंभीर समस्या हो सकती है। सामान्य तौर पर ऐसा तब देखने को मिलता है जब इंजन ऑयल बिल्कुल खत्म हो चुका होता है। ऐसी स्थिति में इंजन सीज़ होने की पूरी संभावना होती है।

नोट: यहां पर हमने उन सामान्य संकेतों के बारे में बताया जो आमतौर पर ज्यादातर वाहनों में देखने को मिलते हैं। इसके अलावा इंजन की स्थिति की जांच करवाकर आप पूरी कंडिशन को ठीक ढंग से समझ सकते हैं। समय-समय में अपने वाहन की सर्विसिंग करवाते रहें और व्हीकल मैनुअल में दिए गए दिशा निर्देशों का पालन करें।

newsletter

Ashwin Tiwary

अश्विन तिवारी इस समय पत्रिका के ऑटोमोबाइल और टेक टीम को लीड कर रहे हैं। 13 साल से ख़बरों की ख़ोज, परख़ और लिखने का काम जारी है और डिजिटल मीडिया में तकरीबन 11 साल का अनुभव रखते हैं। कार, बाइक की रफ्त़ारी खबरों और टेक को आसानी से समझने योग्य बनाने के साथ ही क्राइम, पॉलिटिक्स, बिजनेस जैसे ख़बरों को भी लिखने का अनुभव रहा है। इससे पूर्व ये हिंदुस्तान, जनसत्ता और वन इंडिया जैसे संस्थानों में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहकर्नाटक में कोरोना की रफ्तार तेज, 47  हजार से अधिक नए मामलेरामगढ़ पचवारा में बरसे टिकैत, कहा किसानों की जमीन को छीनने नहीं दिया जाएगाप्रदेश के डेढ़ दर्जन जिलों में रेत का अवैध परिवहन जारी, सरकार को करोड़ों का नुकसान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.