भारत में सिर्फ इन खास लोगों को मिलती है नीले रंग की नंबर प्लेट, वजह जानकर चौंक जाएंगे

कार में नीले रंग की नंबर प्लेट पर सफेद रंग से अक्षर क्यों लिखे जाते हैं और ऐसी कारों का इस्तेमाल सिर्फ ऐसे खास लोग ही करते हैं।

By: Sajan Chauhan

Published: 24 Jul 2018, 10:23 AM IST

किसी भी कार की पहचान उसकी नंबर प्लेट से होती है। कार के ऊपर जो नंबर दिया गया होता है वो व्हीकल के मालिक और उनके पते के हिसाब से पंजीकृत किया गया होता है। कुछ कारों के नंबर सामान्य कारों से बिल्कुल अलग होते हैं, जिनको देखकर कई बार आपने भी सोचा होगा कि ये कैसी नंबर प्लेट है।

किसी भी सामान्य गाड़ी में सफेद रंग की नंबर प्लेट दी गई होती है और उस पर काले रंग से नंबर लिखा गया होता है। इस तरह की नंबर प्लेट वाली गाड़ियों का इस्तेमाल निजी तौर पर किया जाता है। सामान्य तौर पर ऐसी गाड़ियां आम लोगों के पास होती हैं और वो उनका इस्तेमाल घूमने जाने, ऑफिस या अन्य किसी भी कार्य के लिए इस्तेमाल करते हैं।

ये भी पढ़ें- मात्र 5.95 लाख रुपये में मिल रही है 80 लाख वाली Hummer, इंटीरियर देख उड़ जाएंगे होश

कुछ कारों पर नीले रंग की नंबर प्लेट दी गई होती है, जिनको देखने के बाद आपने सोचा होगा कि भला ये कैसी नबंर प्लेट है। जी हां नीले रंग की नंबर प्लेट बेहद खास होती हैं और इनका इस्तेमाल एक आम इंसान नहीं कर सकता है। अब आप सोच रहे होंगे कि इनका इस्तेमाल आम इंसान नहीं कर सकता है तो भला कौन करता होगा? आज हम आपको यहां बताने जा रहे हैं कि जिन कारों पर नीले रंग की नंबर प्लेट होती है और उनपर सफेद अक्षरों से लिखा गया होता है तो ऐसी कारों का इस्तेमाल एंबेसडर द्वारा किया जाता है। जैसे भारत में दूसरे देशों के दूतावास या राजनयिक नीले रंग की नंबर प्लेट वाली गाड़ी ही इस्तेमाल कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें- ये है दुनिया की सबसे सस्ती Sedan, 1 लीटर में देती है 28 किमी से ज्यादा का माइलेज

इन नबंर प्लेट पर राज्य के कोड की जगह, जिस देश की कार होती है उनका कोड दिया गया होता है। अब आपको पता चल गया होगा कि आखिर नीले रंग की नंबर प्लेट का क्या राज है और किस तरह के लोग ऐसी नंबर प्लेट का इस्तेमाल करते हैं।

Sajan Chauhan Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned