scriptWorld's Most Expensive Car worth 1100 Crore 1955 MercedesBenz 300SLR | 1100 करोड़ में बिकी दुनिया की सबसे महंगी कार, इतने पैसे देने के बाद भी मालिक को नहीं मिली चलाने की इजाजत | Patrika News

1100 करोड़ में बिकी दुनिया की सबसे महंगी कार, इतने पैसे देने के बाद भी मालिक को नहीं मिली चलाने की इजाजत

यह एक 1955 की Mercedes-Benz 300 SLR उहलेनहॉट कूप है। इस कार के केवल दो प्रोटोटाइप मर्सिडीज-बेंज रेसिंग विभाग द्वारा बनाए गए थे। जिसमें से एक नीलामी में बेचा गया।

नई दिल्ली

Updated: May 23, 2022 11:34:19 am

इसमें कोई रहस्य नहीं है, कि बीते कुछ समय से नीलामियों में दिग्गज विंटेज रेस कारों की जमकर में बिक्री हुई है, और हाल ही में इन पुराने क्लासिक ऑटोमोबाइल वाहनों की ब्रिकी मे एक विश्व रिकॉर्ड भी टूटा। ध्यान दें, कि कनाडा के प्रतिष्ठित नीलामी हाउस RM Sotheby’s ने घोषणा की कि उन्होंने नीलामी में दुनिया की सबसे महंगी कार की बिक्री की है। बता दें, कि आरएम सोथबी ने जिस कार की नीलामी की उसकी कीमत €135,000,000 या $143 मिलियन(1100Crore) थी, यह एक 1955 की मर्सिडीज-बेंज 300 एसएलआर उहलेनहॉट कूप है। इस कार के केवल दो प्रोटोटाइप मर्सिडीज-बेंज रेसिंग विभाग द्वारा बनाए गए थे। जिसमें से एक नीलामी में बेचा गया।

merc-_slr-amp.jpg
Mercedes-Benz 300 SLR




1955 300 SLR Uhlenhaut Coupe को 5 मई को स्टटगार्ट के मर्सिडीज-बेंज संग्रहालय में नीलाम किया गया था, और इस पूरे सेलिंग प्रोसेस में RM Sotheby व Mercedes-Benz साथ मिलकर काम कर रहे थे। ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि बिक्री सबसे हाई अमाउंट पर हो। हालांकि यह नीलामी केवल आमंत्रण वाली नीलामी थी और कुछ चुनिंदा व्यक्तियों को आमंत्रित किया गया था जो मर्सिडीज के सबसे प्रमुख ग्राहक रहे हैं। इतना ही नहीं दुनिया की सबसे महंगी कार बेचने वाली कंपनी ने मालिक को कई शर्तों के साथ बांध भी रखा है। इनमें से पहली यह है, कि जिस मालिक ने कंपनी को 1109 करोड़ देकर कार खरीदी है, वह कार को अपने घर नहीं ले जा सकता। क्योंकि कार कंपनी के म्यूजियम में रहेगी।



merc-slr-amp.jpg

 



वहीं कंपनी ने इस कार के मालिक को रोजाना ड्राइव करने की इजाजत नहीं दी है। यानी वह इस कार से सड़क प सफर नहीं कर पाएगा। मालिक को केवल खास मौके बड़ी पार्टी या अन्य खास पल के लिए वाहन चलाने की अनुमति मिलेगी। एक निजी ऑटोमोटिव कलेक्टर जिसने गुमनाम रहने का विकल्प चुना है, ने €135 मिलियन ($143 मिलियन) की बोली लगाई। इस बोली के साथ 300 SLR Uhlenhaut Coupe नीलामी में बेची जाने वाली दुनिया की सबसे महंगी कार बन गई है। वहीं आरएम सोथबी ने अपनी घोषणा में खुलासा किया कि मर्सिडीज रेस कार के लिए बोली आरएम सोथबी द्वारा 2018 में बेची गई 1962 फेरारी 250 जीटीओ की बिक्री मूल्य से अधिक कीमत पर खोली गई, जो कार पहले नीलामी में बेची गई सबसे मूल्यवान के रूप में रैंक की गई थी।

merc-slr-amp.jpg

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.