माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई करेगी hyundai Kona, जानें कंपनी का Mission Impossible

  • हुंडई का मिशन इंपॉसिबल
  • माउंट एवरेस्ट के बेस कैंप तक जाएगी hyundai kona
  • बना सकती है रिकॉर्ड

By: Pragati Bajpai

Updated: 17 Dec 2019, 03:34 PM IST

नई दिल्ली: कार शोकीनों के दिलों में जगह बनाने के बाद अब Hyundai Kona अपने मिशन इंपॉसिबल की तायारी में लग गई है। दरअसल hyundai ने मिशन इंपॉसिबल के तहत कोना को माउंट एवरेस्ट पर भेजने का निश्चय किया है। कंपनी कोना ( hyundai kona ) इलेक्ट्रिक कार को माउंट एवरेस्ट के बेस कैंप तक पहुंचने वाली पहली इलेक्ट्रिक एसयूवी बनाना चाहती है।

इस कार को तिब्बत की राजधानी ल्हासा से रवाना किया जाएगा। हुंडई कोना को इसी साल के जुलाई माह में पेश किया गया था, जोकि 23.86 लाख रुपये (एक्स शोरूम) की शुरुआती कीमत पर उपलब्ध है। भारत में मौजूद हुंडई कोना इलेक्ट्रिक कार में 39.2kWh की लीथियम आयन बैटरी लगी है, जो 136 PS पावर और 395 NM टॉर्क पैदा करती है। कोना इलेक्ट्रिक कार सीसीएस टाइप-2 चार्जिंग पोर्ट के साथ केवल 57 मिनट में 80 प्रतिशत तक चार्ज हो जाती है।

Hyundai Kona होगी सरकार की नई सवारी, महिंद्रा और टाटा की गाड़ियों की खरीद हुई बंद

हुंडई ने इसके चार्जिंग पोर्ट को फ्रंट ग्रिल के अंदर दिया है। इसकी बैटरी को घर और ऑफिस में मिलने वाले 7.2kWh टाइप-2 से भी चार्ज किया जा सकता है। इस तरह से ये बैटरी 6 घंटे और 10 मिनट में पूरी तरह चार्ज हो जाती है। हुंडई ने 2.8kWh पोर्टेबल चार्जिंग का भी ऑप्शन दिया है, जिसे आप रेगुलर सॉकेट में कनेक्टर कर सकते हैं।

ARAI सर्टिफिकेट के साथ आने वाली ये कार सिंगल चार्ज में 452 किलोमीटर तक चलती हैं। सिर्फ 9.7 सेंकेंड्स में ये कार 0-100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ लेती है।

1.58 लाख रुपए सस्ती हुई Hyundai Kona Electric, देखें वीडियो

अब देखना ये होगा कि क्या Hyundai Kona जीरो एमिशन के साथ ये मिशन पूरा कर पाएगी या नहीं ।

Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned