आपकी SUV देगी ज्यादा माइलेज आज ही से फॉलो करें ये सिंपल टिप्स

नॉर्मल सेडान और हैचबैक कारों की तुलना में एसयूवी का इंजन कहीं ज्यादा पावरफुल होता है साथ ही इस कार की कैपेसिटी भी काफी ज्यादा होती है ऐसे में कम माइलेज देती है लेकिन अगर आप चाहे तो एसयूवी का माइलेज भी बढ़ाया जा सकता है।

नई दिल्ली: अगर आपके पास कोई एसयूवी है तो आप अच्छी तरह से जानते होंगे कि एसयूवी चलाना कितना खर्चीला होता है। दरअसल नॉर्मल सेडान और हैचबैक कारों की तुलना में एसयूवी का इंजन कहीं ज्यादा पावरफुल होता है साथ ही इस कार की कैपेसिटी भी काफी ज्यादा होती है ऐसे में कम माइलेज देती है लेकिन अगर आप चाहे तो एसयूवी का माइलेज भी बढ़ाया जा सकता है उसके लिए आपको कुछ सिंपल टिप्स फॉलो करनी पड़ेगी।

एक्सीलरेशन कंट्रोल करके: जब भी हम अपनी एसयूवी कार में तेजी से एक्सिलरेटर लेते हैं तो इससे ज्यादा फ्यूल खर्च होता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि एसयूवी काफी भारी होती और इसे खींचने में काफी पावर चाहिए होती है ऐसे में आप हमेशा एसयूवी की स्पीड मेंटेन रखे जिससे आपको अचानक से एक्सलरेटर लेकर की जरूरत ना पड़े।

तेज ना लगाएं ब्रेक: अगर आप अपनी एसयूवी में अचानक से ब्रेक लगाते हैं तो ऐसा करना तुरंत बंद कर दीजिए क्योंकि इससे इंजन पर दबाव पड़ता है और इंजन ज्यादा फ्यूल का इस्तेमाल करता है साथ ही इससे इंजन के पिस्टन भी खराब होने के चांस रहते हैं।

वेट कैपेसिटी से ज्यादा ना करे लोडिंग: हर एसयूवी की एक कैपेसिटी होती है उससे ज्यादा लोडिंग करने पर या सवारियां बैठाने पर आपकी एसयूवी के इंजन पर काफी दबाव पड़ता है और एसयूवी ज्यादा फ्यूल का इस्तेमाल करती है जिससे आपकी जेब पर बोझ बढ़ता है।

सिर्फ शोरूम टायर्स का ही करें इस्तेमाल: आपको एसयूवी में मॉडिफाई टायर लगवाने की जरूरत नहीं है आपको हमेशा शोरूम टायर से ही काम चलाना चाहिए क्योंकि मॉडिफाई टायर काफी चौड़े होते हैं साथ ही यह इंजन पर काफी दबाव डालते हैं जिससे पेट्रोल या डीजल की ज्यादा खपत होती है।

Vineet Singh Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned