Kia Seltos को अमेरिकन क्रैश टेस्ट में मिली टॉप रेटिंग, पढ़ें डीटेल

Kia Seltos के अमेरिकी मॉडल को हेडलैंप न होने के कारण 2020 की सेफ कारों की रेस से बाहर निकाल दिया गया है। दरअसल सेल्टोस में दिए गए हेडलाइट सड़क के कोनो पर रौशनी को पहुँचाने में सक्षम नहीं हैं

By: Pragati Bajpai

Published: 31 Aug 2020, 01:18 PM IST

नई दिल्ली: Kia Seltos के अमेरिकी मॉडल को आईआईएचएस (इंश्योरेंस इंस्टिट्यूट ऑफ हाईवे सेफ्टी) क्रैश टेस्ट में एक सुरक्षित एसयूवी का प्रमाण दिया गया है। यहां ध्यान देने वाली बात ये है कि Kia Seltos के अमेरिकी मॉडल को हेडलैंप न होने के कारण 2020 की सेफ कारों की रेस से बाहर निकाल दिया गया है। दरअसल सेल्टोस में दिए गए हेडलाइट सड़क के कोनो पर रौशनी को पहुँचाने में सक्षम नहीं हैं। इससे चालक को गाड़ी घुमाते समय कोनो पर कम रौशनी मिलती है जिससे विजिबिलिटी कम हो जाती है और एक्सीडेंट के चांसेज बढ़ जाते हैं । हालांकि, संपूर्ण सुरक्षा के मामले में कार को 'अच्छा' बताया गया है।

इन पैमानों पर उतरी खरी- सेल्टोस को दुर्घटना के दौरान चालक को सुरक्षा प्रदान करने में भी हाई स्कोर मिला है। इसके अलावा कार से कार की टक्कर में और कार से व्यक्ति के टक्कर में भी कार सुरक्षा के पैमाने पर खरा उतरी है।

वहीं किआ सेल्टॉस के भारतीय मॉडल की बात करें तो इस कार में कंपनी ने सुरक्षा के लिए 6 एयरबैग, एबीएस, हिल स्टार्ट असिस्ट, इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल, व्हीकल स्टेबिलिटी मैनेजमेंट और टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम दिया गया है। अपने पॉपुलर और धाकड फीचर्स की वजह से ही ये कार हमारे देश में हाथों-हाथ बिक रही है। लॉन्च के कुछ ही महीनों में किया सेल्टोस की 1 लाख कारें बिक गई थीं।

Kia sonnet को मिल रही जबरदस्त सफलता- हाल ही में किया ने अपनी नई कॉम्पैक्ट एसयूवी, सॉनेट से पर्दा उठाया है। इस कॉमपैक्ट एसयूवी कीअब तक 10,000 यूनिट की प्री-बुकिंग हो चुकी है।

Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned