ये कोर्स करने के बाद विदेशों में मिलती है अच्छी सैलरी वाली जॉब

विदेशों में अच्छी सैलरी वाली जॉब चाहने वालों के लिए बेस्ट हैं ये कोर्स

आज के समय में हर कोई विदेश में जाकर अच्छे पैसे कमाने की सोचता है। इसलिए आपको अपने करियर का चुनाव करते समय ही काफी सोच विचार करना होगा क्योंकि कोई अच्छा सा कोर्स ही आपकी यह मनोकामना पूरी कर सकता है। आज के समय में ऐसे कई कोर्सेज मौजूद हैं जो आगे चलकर अच्छी सैलरी दिलाने का काम कर सकते हैं। ये कोर्स करने के बाद विदेश जाकर बसने और वहां पर अच्छी सैलरी पाने की चाहत पूरी करने वाले हैं। यहां हम आपको बता रहे हैं ऐसे कोर्सेज के बारे में—

मकैनिकल इंजीनियरिंग कोर्स
इस कोर्स में मशीनरी और उनके पार्ट्स का डिजाइन बनाने का काम सिखाने समेत ही मैन्यूफैक्चरिंग प्रक्रिया की देखरेख का काम भी सिखाया जाता है। मकैनिकल इंनीजनियरिंग कोर्स की सबसे ज्यादा डिमांड यूएस, यूके, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा जैसे देशों में है। इन देशों में मकैनिकल इंनीजनीयर की सालाना सैलरी 55 लाख रुपए तक होती है।

कंप्यूटर साइंस कोर्स
कंप्यूटर साइंस के कोर्स में कंप्यूटर सिस्टम और उसके नेटवर्क्स की सुरक्षा करना, उसके डाटा को हैकिंग से बचाना और साइबर क्राइम से प्रोटेक्शन करना सिखाया जाता है। आज के समय में विदेशों में साइबर क्राइम बहुत ज्यादा होता है इसलिए कंप्यूटर साइंस के जानकारों की यहां पर काफी डिमांड है। यह कोर्स करने के बाद आप यूएस, यूके, आयरलैंड, जर्मनी और इजरायल में आसानी से जॉब पा सकते हैं। इस क्षेत्र में नौकरी करने पर आपको सालाना 60 लाख रुपए तक का पैकेज मिल सकता है।


सिविल इंजीनियरिंग कोर्स
इस कोर्स में पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर्स में सड़क, भवन, बिल्डिंग्स, एयरपोर्ट, सुरंग का निर्माण और जलापूर्ति का डिजाइन और निर्माण करना आदि आते हैं। सिविल इंजीनियर्स की डिमांड ऑस्ट्रेलिया, यूएस और यूएई में सबसे ज्यादा है। इस जॉब में आपको 54 लाख रुपए सालाना तक सैलरी मिल सकती है।

बीमा विज्ञान का कोर्स
इस कोर्स में वित्त के क्षेत्र के में रिस्क और बीमा के लिए सांख्यिकी और मॉडलिंग के सॉफ्टवेयर और तकनाकों का यूज किया जाता है। बीमा विज्ञान का कोर्स करने के बाद आप ऑस्ट्रेलिया, यूके, न्यूजीलैंड और यूएस में आसानी से जॉब पा सकते हैं जिसका सालाना पैकेज 64 लाख रुपए तक मिल सकता है।

बायोमेडिकल इंजीनियरिंग
इस कोर्स में मेडिकल के क्षेत्र में इंजीनियरिंग स्किल्स का इस्तेमाल और हैल्थकेयर में प्रयोग होने वाले उपकरण तैयार, डिज़ाइन और उन पर रिसर्च करना आदि आते हैं। यह कोर्स करने के बाद न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया, आयरलैंड, यूके और कनाडा में जॉब पा सकते हैं। इस जॉब में सालाना पैकेज 57 लाख रुपए तक मिल सकता है।

फार्मास्यूटिकल साइंस
इस कोर्स में नई दवाओं को विकसित करना, उनका टैस्ट करना और उन्हें मैन्यूफैक्चर करना आदि आता है। यह कोर्स करने के बाद आप न्यूजीलैंड, यूएस, स्वीडन और सिंगापुर में आसानी से जॉब पा सकते हैं। इस जॉब में आपको 52 लाख से 66 लाख रुपए तक सालाना सैलरी मिल सकती है।

अनिल जांगिड़ Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned