IIT Professor Vacancy : आईआईटी में पढ़ाएंगे रिटायर्ड प्रोफेसर भी

IIT Professor Vacancy : आईआईटी को अच्छे शिक्षक नहीं मिल पा रहे हैं। भारी भरकम विज्ञापन करने के बाद 15 से 20 फीसदी अच्छे शिक्षक ही मिल रहे हैं।

By: Deovrat Singh

Published: 10 Feb 2018, 04:33 PM IST

IIT Professor Vacancy : आईआईटी को अच्छे शिक्षक नहीं मिल पा रहे हैं। भारी भरकम विज्ञापन करने के बाद 15 से 20 फीसदी अच्छे शिक्षक ही मिल रहे हैं। सरकार शिक्षकों का टोटा खत्म करने के लिए रिटायर शिक्षकों को दोबारा मौका देने पर विचार कर रही है। इसके लिए केंद्र सरकार नीति बनाएगी ताकि आईआईटी से रिटायर शिक्षकों को वहीं दोबारा कम से कम पांच साल के लिए नियुक्त किया जा सके। सरकार का मत है कि आईआईटी जैसे संस्थानों में गुणवत्ता बनाए रखने के लिए अच्छी फैकल्टी की जरूरत इस कदम से पूरी होगी। मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के मुताबिक हम इस प्रस्ताव पर काम कर रहे हैं। जल्द ही इस संबंध में दिशा-निर्देश जारी कर दिए जाएंगे।

बड़े संस्थानों से पढाई के बाद निकलने वाले स्टूडेंट्स नौकरी के लिए देश-विदेशों में चले जाते हैं। अच्छे पैकेज पर नौकरियों के ऑफर के चलते उन्हें किसी भी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ता। अच्छी नौकरी और मोती सेलेरी में काम करने वाले अभियांत्रिकी स्टूडेंट डॉक्ट्रेट की मानद उपाधि प्राप्त करने के बाद भी Sarkari Naukri के लिए प्रयास नहीं करते। सरकारी नौकरी और शिक्षक बनने के बाद सरकार द्वारा देय मानदेय विदेशी कंपनियों द्वारा देय वेतन की तुलना में बहुत कम हैं। इसी कारण देश के बड़े IIT जैसे संस्थानों में शिक्षकों की कमी महसूस हो रही है।

अध्यापकों के लिए भर्ती प्रक्रिया बार-बार जारी करने के बाद भी योग्य उम्मीदवार इच्छा जाहिर नहीं कर रहें। ऐसे में सेवानिवृत प्रोफेसर ही संस्थानों को सहारा प्रदान करेंगे। सेवानिवृत प्रोफेसरों को नियत मानदेय पर रखा जायेगा और संस्थानों में बाधित हो रही पढाई को सुचारु रूप से आगे बढ़ाया जायेगा।


यह भी पढ़ें : NEET Exam 2018 : 6 मार्च को
9 मार्च तक भर सकेंगे विद्यार्थी ऑनलाइन फार्म
अजमेर . नेशनल एलिजिबिलिटी कम एन्ट्रेंस टेस्ट (नीट) के ऑनलाइन आवेदन शुरू हो गए हैं। इसके लिए विद्यार्थी 9 मार्च तक फार्म भर सकेंगे। देशभर के मेडिकल और डेंटल कॉलेज में प्रवेश के लिए सीबीएसई 6 मई को नीट का आयोजन करेगा। विद्यार्थी 9 मार्च तक ऑनलाइन फार्म और 10 मार्च तक फीस जमा करा सकेंगे। सीबीएसई पहली बार उर्दू भाषा में भी नीट का पेपर तैयार करेगा।

Deovrat Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned