सुभासपा के राष्ट्रीय महासचिव ने इशारों-इशारों में दी 2019 में BJP से अलग होने की धमकी, कहा....

सुभासपा के राष्ट्रीय महासचिव ने इशारों-इशारों में दी 2019 में BJP से अलग होने की धमकी, कहा....

Rafatuddin Faridi | Publish: Sep, 16 2018 02:23:20 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 02:56:51 PM (IST) Chandauli, Uttar Pradesh, India

यूपी में भाजपा की सहयोगी पार्टी है सुभासपा।

चंदौली . SC/ST ACT पर सवर्णों की नाराजगी झेल रही भारतीय जनता पार्टी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। सहयोगी दल लगातार उसकी मुसीबतों में इजाफा करने में लगे हुए हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव के लिये तैयारी कर रही बीजेपी के लिये ये मुश्किलें नुकसानदेह साबित हो सकती हैं। इस कड़ी में यूपी में बीजेपी की सहयोगी पार्टी बागी सुर अपना लिये हैं। सरकार को भ्रष्टाचार से लेकर हर मुद्दे पर फेल बताते हुए इशारों-इशारों में 2019 में बीजेपी का साथ छोड़ने जैसी बात कर दी है।

 

Om Prakash Rajbhar

 

हम बात कर रहे हैं यूपी में योगी आदित्यनाथ सरकार के कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर की पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी की। शॉर्ट कट में इसे सुभासपा भी कहा जाता है। सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर के बेटे और पार्टी के महासचिव अरविंद राजभर ने इशारों-इशारों में बीजेपी को धमकी दी है कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गयीं तो वो अगला स्टेप उठाने के लिये मजबूर होंगे। सियासी गलियारों में उनके इस बयान को 2019 में एनडीए से अलग होने की धमकी का इशारा बताया जा रहा है। राजभर ने कहा है कि नौजवानों के रोजगार और महिला सुरक्षा आदि मुद्दों को लेकर अगर सरकार सजग नहीं हुई कोई कदम नहीं उठाया तो हम अगला स्टेप उठाने के लिये मजबूर होंगे।

 

 

इतना ही नहीं उन्होंने यहां तक दावा किया कि भ्रष्टाचार का विरोध कर सत्ता में आई सरकार में अब तक का सबसे अधिक भ्रष्टाचार हो रहा है। कहा कि प्रधानमंत्री कहते हैं कि सर्व समाज संतुष्ट है। अगर ऐसा है तो इतने बड़े पैमाने पर लोग आंदोलन क्यों कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर किसी की बात न सुनने की बात कहा। राजभर ने सरकार की नीतियों को दमनकारी बताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी हों या मुख्यमंत्री योगी दोनों किसी से मिलना नहीं चाहते। वो सोचते हैं कि सबकुछ ठीक चल रहा है। मैं पूछना चाहता हूं कि अगर सबकुछ ठीक है तो फिर इतना भ्रष्टाचार क्यों हो रहा है।

 

Arvind Rajbhar
सुभासपा राष्ट्रीय महासचिव ओम प्रकाश राजभर IMAGE CREDIT:

 

राजभर यहीं नहीं रुके उन्हें ने कहा कि इस जनता ने इसलिये वोट नहीं दिया था कि महंगाई चरम पर हो। सरकार बनाने के पहले बड़ी हवा चल रही थी कि मोदी सरकार आएगी तो पेट्रोल सस्ता हो जाएगा। युवाओं और महिलाओं से अह्वान कर दिया कि ऐसी सरकार के खिलाफ आवाज उठाएं। गलत नीतियों का विरोध करें। एक नए कानून एक नए नेतृतव का चयन करें। कहा कि यूपी में ओम प्रकाश राजभर ऐसा नेतृत्व है जो सबको साथ लेकर चलेगा।

 

एससी/एसटी एक्ट के विरोध में है सुभासपा

अरविंद राजभर ने कहा कि ओम प्रकाश राजभर ने मायावती से अलग होकर पार्टी ही इसलिये बनायी थी क्योंकि एससी/एसटी एक्ट का दुरुपयोग हो रहा था। सुप्रीम कोर्ट का निर्णय ठीक था। सरकार ने इसके खिलाफ कानून लाकर सुप्रीम कोर्ट का अनादर किया है। उन्होंने साफ कहा कि सरकार के एक्ट का उनकी पर्टी विरोध करती है।

By Santosh jaiswal

Ad Block is Banned