चंदौली में बोलीं मायावती, बीजेपी आई तो खत्म कर देगी आरक्षण

चंदौली में बोलीं मायावती, बीजेपी आई तो खत्म कर देगी आरक्षण
Mayawati

मायावती ने कहा शिवपाल हराएंगे अखिलेश के प्रत्याशियों को।

चंदौली. मायावती ने चंदौली की चुनावी जनसभा में एक बार फिर आरक्षण का कार्ड खेला। उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी सत्ता में आयी तो वह आरक्षण को खत्म कर देगी। आरएसएस का एजेंडा भी यही है। ऐसा सूत्रों से पता चला है। इस दौरान उन्होंने समाजवादी पार्टी के वोटों के बंट जाने और दलितों के एकजुट रहने का दावा करते हुए मुसलमानों से बसपा को एकतरफा वोट करने का आह्वान किया।




मायावती ने कहा कि बीजेपी अपने मुख्य चुनावी मुद्दे भी पूरे नहीं कर पायी। न किसानों का कर्ज माफ हुआ और न ही लोगों के खाते में एक भी रुपया आया। यही वजह है कि लोग बीजेपी केा अब भारतीय जनता पार्टी के बजाय भारतीय जुमला पार्टी कहने लगे हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी दागी और बागी लोगों की पार्टी बन चुकी है। दावा किया कि बीजेपी के मूल वोटर ही उनको सबक सिखाएंगे, जिन्होंने बीजेपी को बनाने में अपना जीवन निकाल दिया।



कहा कि 1000 और 500 के नोटबंदी की मार से जनता अभी तक उबर नहीं पाई है। कई लोग बेरोजगार हो गए। कहा कि यदि बीजेपी चुनाव में जीत कर सत्ता पा जाती है तो पिछड़ों के आरक्षण पर कैची चलेगी। वह आरएसएस के एजेंडे को लागू करेगी। केन्द्र भी बीजेपी की ही सरकार है और दिल्ली की कानून व्यवस्था उन्हीं के हाथों में है और वो वहां संभाल नहीं पा रहे।



जो लोग जिले से बाहर कमाने गए हैं उनके साथ वहां सौतेला व्यवहार किया जाता है। जो लोग करते हैं वह बीजेपी के सहयोगी हैं। चुनाव में इसका बदला लेना है। कहा कि सपा की नैय्या डूब रही है। शिवपाल यादव अपने अपमान का बदला लेने के लिये अखिलेश के प्रत्याशियों को अंदर ही अंदर हराने की पूरी कोशिश करेंगे। ऐसे में सपा को समाजवादी पार्टी की भाभी भी नहीं बचा पाएंगी।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned