ऊफान पर चन्द्रप्रभा नदी, मूसाखाड़, भैसौंड़ा और नौगढ़ बांधों के फाटक खोले गए, बहाव से दहले लोग

ऊफान पर चन्द्रप्रभा नदी, मूसाखाड़, भैसौंड़ा और नौगढ़ बांधों के फाटक खोले गए, बहाव से दहले लोग

Mohd Rafatuddin Faridi | Publish: Sep, 04 2018 09:39:58 PM (IST) Chandauli, Uttar Pradesh, India

ओवरफ्लो हुए बांध, मैदानी इलाकों व गांवों में पहुंचा पानी।

चंदौली. जिले के पहाड़ी इलाके में और सोनभद्र जिले में पिछले चार दिनों से हो रही लगातार बारिश के चलते नक्सल प्रभावित नौगढ़ तहसील के बांधों में पानी ओवरफ्लो हो गया है। जिसके कारण बांधों के गेट खोल दिए गए हैं और बारिश का पानी तेजी से मैदानी इलाकों की तरफ रुख कर गया है। यही नहीं मैदानी इलाकों में बनाई गई बांध और नदियां ओवरफ्लो हो गई हैं। जिससे पहाड़ी नदियां उफान पर आ गई हैं और नदियों का पानी गांव की तरफ रुख कर गया है।

 

 

नक्सल प्रभावित नौगढ़ तहसील क्षेत्र से निकली चंद्रप्रभा नदी ने विकराल रूप ले लिया है और चंद्रभागा का पानी बबुरी क्षेत्र के आधा दर्जन गांव में घुस चुका है। यही नहीं मुगलसराय-चकिया मार्ग पर स्थित बबुरी थाने के पास चंद्रप्रभा पर बना पुलिया जिस पर दो फीट से अधिक ऊंचाई से पानी लगातार बह रहा है। आधा दर्जन से अधिक गावों में बाढ़ आते ही जिला प्रशासन की पोली खुल गयी। मामले की जानकारी होते ही जिला प्रशासन भी हरकत में आ गया है और राहत बचाव कार्य मैं जुट गया है। यही नहीं जिला प्रशासन ने बाढ़ की आहट को देखते हुए गंगा के तटवर्ती क्षेत्र और पहाड़ी नदियों के किनारे पड़ने वाले गांव में सतर्कता बढ़ा दी है।

 

 

यह नजारा गंगा किनारे के गांव का नहीं बल्कि नक्सल प्रभावित इलाके से सटे बबुरी थाना क्षेत्र का है। जहां पर थाना क्षेत्र के आधा दर्जन गांव में नक्सल क्षेत्र के पहाड़ों से निकलने वाली चंद्रप्रभा नदी ने अपना तांडव मचाना शुरू कर दिया है। दरअसल नौगढ़ तहसील के भैसौड़ा बांध, नौगढ़ बांध और मुसाखाड बांध में अत्यधिक मात्रा में बारिश का पानी आ जाने के कारण बांधों की सुरक्षा को देखते हुए बांधों के फाटक खोल दिए गए हैं, जिससे पहाड़ी नदिया उफान पर आ गयी है। सबसे ज्यादा चंद्र प्रभा नदी ने रौद्र रूप धारण कर लिया है और नदी के किनारे बसे गांव में पानी घुसने लगा।

 

 

आज सुबह अचानक आए इस जलप्लावन से लोग परेशान हो उठे और जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। यही नहीं चन्द्रप्रभा का पानी मेन सड़क पर बने पुलिया के दो फुट ऊपर से भी बहने लगा। अचानक आयी बाढ़ के कारण लोग भयभीत हो उठे हैं। लगातार जलस्तर बढ़ने के कारण आसपास के सैकड़ों गांव में रहने वाले ग्रामीणों को बाढ़ का डर सताने लगा है। वहीं चन्द्रप्रभा नदी किनारे बसे बबुरी थाना क्षेत्र के गांव दूदे, नगहि, नवाबपुर सहित दर्जनों गावों में चंद्रप्रभा का पानी घुस चुका है। अचानक घर में घुसे पानी के कारण घरों में रखे अनाज खाने पीने के सामान नष्ट हो गए हैं। वहीं बुनकरों के लूम पर बुनाई किये जाने के लिए लगाए गए धागे भी पानी से खराब हो गए है। तेजी से बढ़ रहे जलस्तर के डर के कारण लोग अपने अन्य जरूरी सामानों को बचाने में जुट गए हैं।

 

 

जिला प्रशासन अचानक आए इस आपदा से निपटने के लिए कमर कस चुका है और पूरी तैयारी में जुट गया है। जिलाधिकारी का कहना है कि हम ने अधिकारियों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में रवाना कर दिया है और पुलिस को भी एलर्ट कर दिया गया है। पर हैरत की बात है कि जहां जल स्तर लगातार बढ़ रहा है वहीं मातहत अधिकारियों द्वारा दी गई सूचना के जाल में फंसकर जिलाधिकारी ने बताया कि जल स्तर घट रहा है।

By Santosh jaiswal

Ad Block is Banned