राइसमिल पर बकाए को लेकर कुर्की और सील की कार्रवाई के महज एक घंटे बाद ही दबंगों ने तोड़ दी सील

राइसमिल पर बकाए को लेकर कुर्की और सील की कार्रवाई के महज एक घंटे बाद ही दबंगों ने तोड़ दी सील

Sunil Yadav | Publish: Feb, 15 2018 11:17:37 PM (IST) Chandauli, Uttar Pradesh, India

उपजिलाधिकारी सदर विकास सिंह ने आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई का दिया आदेश

चंदौली. कंदवा थाना क्षेत्र के घोसवां गांव स्थित आर्शीवाद राइसमिल पर बकाए को लेकर बुधवार की गई सील की कार्रवाई के महज एक घंटे बाद दबंगों ने मिल की सील तोड़ दिया। इस बात की जानकारी होने पर उपजिलाधिकारी सदर विकास सिंह ने आरोपीयों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई का आदेश दिया। जिसके अनुपालन में राजस्व कर्मियों ने एक बार फिर आर्शीवाद राइसमिल को सील कर दिया। इसके साथ ही राजस्व विभाग की टीम द्वारा अज्ञात लोगों के खिलाफ कन्दवा पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया।

गौरतलब है कि बुधवार को राजस्व विभाग द्वारा जिले के तकरीबन आधा दर्जन राइसमिल के बड़े बकाए दारों पर कार्रवाई करते हुए राइसमिल को सील किया गया था। जिसमें आर्शीवाद मिल भी शामिल थी। आशिर्रवाद मिल पर 2 करोड़ बारह लाख पचहत्तर हजार रूपए बकाया है। जिसकी वसूली को लेकर राजस्व की टीम ने कार्रवाई के तहत कुर्की करते हुए राइसमिल को सील कर दिया था। इसके कुछ देर बाद ही आशिर्वाद मिल का ताला तोड़ दिया गया था। इसकी जानकारी जब सदर उपजिलाधिकारी विकास सिंह को हुई तो उन्होंने तत्काल तहसील प्रशासन को आवश्य कार्रवाई के निर्देश देते हुए आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया।

जिसके अनुपालन में सदर तहसील प्रशासन ने आशीर्वाद राइस मिल को गुरूवार को दोबारा सील कर दिया। यह कार्रवाई राइस मिल के बकायेदार के भाई अमित सिंह के सुपुर्दगी में की गई । साथ ही सीलिंग की कार्रवाई के बाद चाभी सौंप कर हिदायत दी गई की अगर दोबारा सील किया गया ताला टूटा तो सारी जिम्मेदारी आपकी होगी और आप पर भी कार्रवाई होगी। वहीं सरकारी सील तोड़ जाने के बाबत सदर तहसील प्रशासन द्वारा कन्दवा थाने में तहरीर दे दी गई है और कन्दवा पुलिस द्वारा अज्ञात के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कर लिया गया है। यह राइस मिल माधुरी सिंह पत्नी अनूप सिंह जो कि वर्तमान मे स्थानीय ग्राम प्रधान की बताई जा रही है।

Ad Block is Banned