डीएम की फसल काट ले गए किसान, भूमाफियाओं ने जमीन को भी गिरवी रख दिया

पुलिस मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही में जुट गई है

By: Ashish Shukla

Published: 08 Dec 2019, 03:27 PM IST

चंदौली. तहसील क्षेत्र के जसूरी गांव में डीएम के नाम दर्ज 40 बीघा जमीन में रोपी गई धान की फसल को स्थानीय किसानों ने काट लिया। हैरानी की बात रही कि प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं लगी। इतना ही नहीं यह बात भी सामने आई है कि डीएम के नाम की इस जमीन को कुछ भूमाफियों ने गिरवी भी रख दिया। मामला संज्ञान में आते ही सदर एसडीएम हीरालाल के निर्देश पर भू-माफियाओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए कोतवाली में तहसील प्रशासन की ओर से तहरीर दी गई है। पुलिस मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई में जुट गई है।

क्षेत्र के जसूरी गांव में कबीर मठ की करीब 40 बीघा जमीन थी। उक्त जमीन को लेकर ग्रामीणों में कई बार विवाद हुआ। इसके बाद मठ के महंत ने जमीन जिलाधिकारी चंदौली के नाम रजिस्ट्री कर दी थी। लेकिन जिला प्रशासन के उदासीन रवैया के कारण उक्त जमीन की देखभाल न होने से भूमाफियाओं ने कब्जा कर लिया। यही नहीं किसानों को खेती करने के लिए पेशगी पर दे दी गई। गत वर्ष मामला संज्ञान में आने पर तहसील के अधिकारियों में हड़कम्प मच गया। एसडीएम व तहसीलदार ने मौके पर पहुंचकर अवैध कब्जा हटवाया था।

लेकिन अधिकारियों के वापस होते ही किसानों ने दोबारा जमीन पर कब्जा कर लिया। हौसला इस कदर बढ़ा कि जुलाई माह में उक्त भूमि पर धान की फसल की रोपाई कर दी। इसकी शिकायत ग्राम प्रधान डिम्पल सिंह ने तहसील प्रशासन से की थी। इस पर नायब तहसीलदार ने ग्राम स्थित अराजी नम्बर 696 रकबा 6.149 व अराजी 826 रकबा 3.856 की जांच कर इसकी रिपोर्ट तहसील प्रशासन के समक्ष प्रस्तुत किया था। इसके बाद नवम्बर माह में एसडीएम हीरालाल ने जमीन पर रोपी गई धान की फसल को कुर्क करने की कार्रवाई की थी।

साथ ही सदर कोतवाल को अपनी अभिरक्षा में लेकर निष्पक्ष सुपुर्दगार की सुपुर्दगी में उपज की कटाई कराकर धान क्रय केंद्र पर बेचकर धनराशि को तहसील के नजारत में जमा कराने का निर्देश दिया है। लेकिन यह प्रक्रिया होने से पहले ही हौसलाबुलंद भू-माफियाओं ने रोपी गई धान की फसल की कटाई करा लिया। यह मामला संज्ञान में आते ही शनिवार को उपजिलाधिकारी के निर्देश पर भू-माफियाओं के खिलाफ तहरीर दी गई। इस सम्बंध में कोतवाल गोपाल गुप्ता ने बताया कि तहरीर के आधार पर दर्जन भर अज्ञात लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

Ashish Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned