ट्रेन की चपेट में आने से पांच यात्रियों की दर्दनाक मौत, चार की हालत गंभीर

गंभीर रूप से घायलों को ईलाज के लिए वाराणसी लाने की तैयारी

By: Ashish Shukla

Updated: 12 Oct 2018, 09:29 PM IST

चंदौली. मुगलसराय-गया रेलखंड पर रेलवे स्टेशन मोहनिया(बिहार) के प्लेटफार्म नंबर तीन के पास शुक्रवार की सायं लाल कुआं एक्सप्रेस ट्रेन की चपेट में आने से 5 यात्रियों की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई तथा 4 यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए । घायलों का इलाज मोहनिया स्थित निजी चिकित्सालय में चल रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार की सायं वाराणसी राची इंटरसिटी 8612 डाउन ट्रेन मोहनिया रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर तीन पर आकर रुकी ।

ट्रेन रुकने के बाद कुछ यात्री प्लेटफॉर्म पर न उतर कर गलत साइड में उतर कर रेलवे लाइन पार कर जाने लगे । तथा कुछ यात्री इंटरसिटी को पकड़ने के लिए भी गलत साईड मे ट्रैक पर खङे थे। उसी दौरान सासाराम की ओर से लाल कुआं एक्सप्रेस ट्रेन आ गई। और यात्री ट्रेन को देख नहीं सके ।परिणाम स्वरूप उक्त ट्रेन के चपेट में कई यात्री आ गए । घटना में 5 यात्रियों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई ।तथा 4 यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए। आनन-फानन में घायलों को मोहनिया स्थित निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया ।सूचना पाकर मोहनियां डीएसपी ,एसडीओ,सीओ, जीआरपी ,आरपीएफ, सहित स्थानीय प्रशासन और पुलिस पहुंच गई तथा जिला धिकारी के निर्देश पर तत्काल शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम हेतु सदर अस्पताल भभुआ भेजा गया।

इस हृदय विदारक घटना से रेलवे स्टेशन पर अफरा-तफरी का माहौल बना रहा । मृतकों मे शहीना 25 वर्ष पति शकुर आलम , करीना 13 वर्ष,पिता एकरामुल हक, आफरीन परवीन पति एकरामुल हक तीनो एक ही परिवार के ग्राम डिहरी थाना राजपुर बक्सर के निवासी है। तथा सनपातो देवी पति बल्ली सिंह यादव ग्राम कहुआरा थाना बिक्रम गंज रोहतास के निवासी है। एक मृतक की पहचान नही हो पाई है। घायलों मे चंदन कुमार व धनोष कुमार घेघीया मोहनियां कैमूर ,लीलावती देवी ग्राम श्रीकांतपुर सूर्यपुरा रोहतास, तथा धर्मेंद्र कुमार बङका कीर सोनहन कैमूर के निवासी है। सभी घायलों की नाजुक बनी हुई है। सभी घायलों को ईलाज हेतु प्रशासन द्वारा वाराणसी भेजे जाने की तैयारी चल रही थी।

Ashish Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned