रेलवे स्टेशन पर पकड़ी गयी चांदी की बड़ी खेप, कीमत सुनकर हैरान रह जाएंगे

बंगाल के बाद अब झारखंड बन रहा है चांदी तस्करी का नया हब।

चंदौली. हावड़ा नई दिल्ली रेल रूट पर अब चांदी की तस्करी बड़े पैमाने पर होने लगी है। पश्चिम बंगाल के बाद अब चांदी की तस्करी का नया हब झारखंड बनता जा रहा है । टैक्स चोरी और जीएसटी चोरी के लिए तस्कर बड़े पैमाने पर इस धंधे में लिप्त हो गए हैं। दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन जीआरपी ने चेकिंग के दौरान एक वृद्ध को 09 किलो से अधिक चांदी के साथ गिरफ्तार किया है। बरामद चांदी कीमत पांच लाख से अधिक बताई जा रही है। वहीं जीआरपी ने इस मामले में सेल टैक्स विभाग को सूचना दे दी है।


आगामी त्योहारों के मद्देनजर जीआरपी दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर लगातार चेकिंग अभियान चला रही है। इसी क्रम में चेकिंग के दौरान स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या 7/8 पर फुटओवर ब्रिज के निचे से एक वृद्ध को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार व्यक्ति के बैग से जीआरपी ने 9.380 किलो चांदी की नौ सिल्लियां बरामद कींं। गिरफ्तार व्यक्ति ने अपना नाम नवल किशोर अग्रवाल निवासी बेलवा टीकर वार्ड, नम्बर-23, थाना डाल्टेनगंज,जिला पलामू, झारखंड बताया। जीआरपी के अनुसार आरोपी चांदी की सिल्लियां डाल्टेनगंज से वाराणसी ले जा रहा था। उसे वाराणसी में चांदी बेचने पर प्रति किलो डेढ़ हजार रुपए फायदा होता।

जीआरपी के अनुसार बरामद चांदी की कीमत पांच लाख रुपए से अधिक है। जीआरपी डीडीयू जीआरपी कोतवाल आरके सिंह ने बताया कि सेल्स टैक्स विभाग को सूचित किया है, आगे की कार्रवाई सेल टैक्स विभाग करेगा। जीआरपी कोतवाल के मुताबिक़ आरोपी काफी शातिर तस्कर लग रहा है और जीआरपी इसकी और जानकारी जुटाने में जुट गयी है।

By Santosh jaiswal

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned