चंदौली के दो गावों में खसरा का प्रकोप, एक की मौत

चंदौली के दो गावों में खसरा का प्रकोप, एक की मौत
measles

धीना क्षेत्र के जमुरखा गांव में कई लोग बीमारी से पीड़ित, स्वास्थ्य विभाग की टीम ने प्रभावित गांव का किया दौरा 

चंदौली. जनपद के दो अलग-अलग गांवों में खसरा का प्रकोप अपने चरम पर है। नक्सल प्रभावित चकरघट्टा क्षेत्र के भैसौड़ा गांव में बीते एक पखवारे से दो दर्जन से अधिक लोग पीड़ित हैं। यही नहीं बीते मंगलवार को खसरा से सानिया 12 वर्ष की मौत भी हो गई है, जबकि धीना क्षेत्र के जमुरखा गांव में एक दर्जन भर से अधिक लोग चेचक के साए में आ गए हैं।  

बार-बार शिकायत के बाद शुक्रवार की शाम स्वास्थ विभाग की टीम दोनों गांव पहुंचकर मरीजों में दवा का वितरण किया हुआ संतुलित आहार लेने के साथ साथ ही सफाई पर विशेष ध्यान देने के लिए कहा गया है।

बता दें कि नक्सल प्रभावित चकरघट्टा क्षेत्र के भैसौड़ा गांव मैं बीते एक पखवारे से खसरा से ने पांव पसार लिया है इसके जद में आए कमरुद्दीन की पुत्री सानिया की बीते मंगलवार को मौत हो गई जब कि सलामत अली,अनमोल,जैनुल,अफजाल,सगीर सईदा,जाफ़रीन, गुड़िया,रानी,अमीर,सलमान,खातून,गुलाब, शाहीद,अशरफ अली ,अजहर,सुहेल सहित दो दर्जन से अधिक लोग बीमार होकर सरकारी निजी अस्पताल में अपना उपचार करा रहे हैं विधायक पूनम सोनकर ने मामले की जानकारी सीएमओ डॉक्टर आरएन सिंह को दी जिस पर शुक्रवार की शाम गांव में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नौगढ़ के डॉक्टर पहुंच कर दवाओं का वितरण किया। 

वही धीना के जमुरखा गांव में खसरा के प्रकोप से आदित्य, आदर्श, आयुष, नवीन, दीपा, अभय, मनीष, सूरज,  पंकज, प्रदीप,आकाश,आशा,गरिमा,ज्योति, विनोद,चंद्र,शांति,दयाराम,शिवाजी,शनिदेव आदि दर्जनभर से अधिक पीड़ित हैं। शुक्रवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी के नेतृत्व में स्वास्थ्य टीम गांव में पहुंचकर दवा का वितरण किया।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned