मायावती पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाली BJP विधायक के खिलाफ FIR दर्ज करने से पुलिस का इनकार

मायावती पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाली BJP विधायक के खिलाफ FIR दर्ज करने से पुलिस का इनकार
मयावती और साधना सिंह

Mohd Rafatuddin Faridi | Publish: Jan, 23 2019 04:26:20 PM (IST) | Updated: Jan, 31 2019 02:23:41 PM (IST) Chandauli, Chandauli, Uttar Pradesh, India

मुगलसराय विधायक साधना सिंह ने मायावती पर एक कार्यक्रम में की थी अमर्यादित टिप्पणी, जिसके बाद बसपा नेता ने तहरीर देकन एससीएसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी।

चंदौली. बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती को किन्नर से बद्तर बताने और उनके खिलाफ अमर्यादित शब्द इस्तेमाल करने के मामले में मुगलसराय बीजेपी विधायक साधना सिंह के खिलाफ एफआईआर लिखने से पुलिस ने इनकार कर दिया है। पुलिस का कहना है कि विधायक के खिलाफ एससी/एसटी का मुकदमा नहीं दर्ज किया जाएगा। एफआईआर दर्ज कराने वाले विधायक के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दर्ज करा सकते हैं। वाराणसी मंडल के जोनल इंचार्ज रामचन्द्र गौतम ने चंदौली के बबुरी थाने में 20 जनवरी को तहरीर देकर एससी/एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी, जिसपर पुलिस ने वीडियो की जांच करने आदि बात कहकर तब टाल दिया था। अब पुलिस कह रही है कि एफआईआर दर्ज नहीं की जा सकती।

 

 

एसपी चंदौली का कहना है कि इस मामले में एफआईआर नही दर्ज की जा सकती। उन्होंने कहा है कि बयान की जांच के बाद मिली रिपोर्ट के हिसाब से भुक्तभोगी विधायक के खिलाफ मानहानि का मुकदमा कर सकता है। तहरीर देने वाले बसपा नेता रामचन्द्र गौतम को लिखित रिपोर्ट भी भेजी जा रही है। बताते चलें कि 19 जनवरी को चंदौली जिले के बबुरी थानान्तर्गत मुगलसराय विधानसभा के परनपुरा गांव में बीजेपी की ओर से किसान कुंभ महाभियान का आयोजन किया गया था, जिसमें देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बेटे व भाजपा महासचिव पंकज सिंह बतौर मुख्य अतिथि मौजूद थे।

 

इसी दौरान मुगलसराय विधायक साधना सिंह ने जब मंच पर माइक पकड़ा तो बोलते-बोलते वह बसपा सुप्रीमो मायावती के लिये अमर्यादित और अशोभनीय शब्द बोल गयीं, जिसके बद बवाल मच गया। दूसरे दिन शाम को साधना सिंह सामने आयीं और अपने बयान पर खेद जताया और सफाई दी, पर तब तक बसपा की ओर से बबुरी थाने में तहरीर दी जा चुकी थी और महिला आयोग ने संज्ञान लेकर नोटिस जारी करने की बात कह दी थी। तीसरे दिन नोटिस भी जारी हो गयी। पर मुकदमा दर्ज करने से पुलिस ने इनकार कर दिया है।
By Santosh Jaiswal

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned