बनारस के टाॅप टेन अपराधी अशोक यादव को चंदौली पुलिस ने मुठभेड़ में किया गिरफ्तार, साथी फरार

चंदौली जिले की मुगलसराय कोतवाली के चंदासी पुलिस चौकी के पास चेकिंग के दौरान हुई मुठभेड़। पुलिस ने दावा किया है कि पकड़ा गया अपराधी रोकने पर भी नहीं रुका और उसने पुलिस पर गोली चला दी। जवाबी फायरिंग में वह घायल हो गया।

चंदौली. बनारस के टाॅप टेन बदमाश में शुमार अशोक यादव को सोमवार की देर रात चंदौली पुलिस ने चेकिंग के दौरान हुई मुठभेड़ में पकड़ लिया। बदमाश के पैर में गोली लगी, जिसके बाद उसे इलाज के लिये जिला अस्पताल ले जाया गया। अशोक यादव वाराणसी का टाॅपटेन अपराधी है और उसके खिलाफ हत्या, लूट, छिनैती व आर्म्स एक्ट सहित हत्या के प्रयास के कुल 23 मुकदमे और गाजीपुर में तीन मुकदमे दर्ज हैं। मौके से पुलिस ने बदमाश अशोक की बाइक, पिस्टल और चार खोखा कारतूस भी बरामद किया है।

 

चंदौली पुलिस का कहना है कि पूर्वांचल के विभिन्न जिलों में सोमवार की देर शाम हुई घटनाओं को देखते हुए एसपी की ओर से अलर्ट रहने और लगातार चेकिंग का आदेश दिया गया था। मुगलसराय कोतवाली पुलिस वाराणसी से चंदौली जिले में दाखिल होने वाले वाहनों की चेकिंग कर रहे रही थी। चंदासी पुलिस चौकी के सामने बैरिकेडिंग कर पुलिस चेक कर रही थी तभी वाराणसी की तरफ से बादक पर आते दो युवक रोकने पर भी नहीं रुके। पुलिस का दावा है कि बाइक सवार दोनों युवक पुलिस टीम पर फायर कर भागने की कोशिश में थे। घेराबंदी कर जवाबी फायरिंग की गई जिसमें बाइक सवार एक युवक पुलिस की गोली से घायल होकर गिर गया, जबकि दूसरा मौके से फरार होने में कामयाब रहा। पकड़े गए आरोपी की पहचान वाराणसी के लंका थाने के टाॅप टेन अपराधी अशोक यादव के रूप में हुई।

 

मुठभेड़ की जानकारी होते मौके पर सीओ सदर और पुलिस अधीक्षक भी पहुंचे। पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल ने बताया की मुठभेड़ के दौरान एक बदमाश पकड़ लिया गया है। उसके खिलाफ वाराणसी जिले में 2 दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज हैं। उसका इलाज जिला अस्पताल में कराया जा रहा है। पुलिस उसके साथी की तलाश में जुटी है।

By Santosh Jaiswal

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned