चंदौली में महिला को जहरीले सांप ने काटा तो मौलवी ने उंगली काटकर बहाया खून, मौत

मौलवी के पास अपने इलाज के लिए आई थी महिला

By: sarveshwari Mishra

Published: 11 Oct 2017, 11:10 AM IST

चंदौली. इस बदलते युग में भी आज लोग अंधविश्वास में जी रहे हैं। इसी में कितने लोगों की जान भी चली जाती है। ऐसे ही एक अंधविश्वास की घटना चकिया थाना क्षेत्र के रघुनाथपुर गांव की है जहां 25 साल की तारा देवी की तबियत खराब होने पर उसके परिजन मजार मौलवी से झाड़-फूंक कराने ले गए। रात होने के कारण मजार के बाहर सो गए। जिसके दौरान किसी जहरीले सांप ने तारा को डस लिया। परिजनों ने यह बात मौलवी को बताई तो वह महिला की उंगली काटकर चीरा लगाने के साथ पानी फूंककर पीने को दे दिया।

 

 

बतादें कि महिला सुबह तक मरी हुई मिली। महिला की मौत को देखकर मौलवी ने आनन-फानन में अपने वाहन से उसको गांव भिजवा दिया। ग्रामीणों को जब पूरा माजरा पता चला तो पुलिस को मौलवी के खिलाफ प्राथमिकी के लिए तहरीर दी। ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए पुलिस ने धारा 304 में मौलवी शरफू सहित चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के साथ दो गिरफ्तार कर लिया है। जिसमें दो गिरफ्तार कर लिए गए।

 

 

तारा देवी अपने ससुर और अपने ननद के साथ बीमारी का इलाज कराने गांधीनगर की एक मजार पर पूजा पाठ करने वाले मौलवी के पास पहुंची। मौलवी के देखने के बाद रात को उसी गांव में इस महिला को भी एक सांप ने डस लिया परिवार उसका आनन-फानन में इलाज के लिए डॉक्टर के पास ना जाकर मौलवी के पास पहुंचा।


मौलवी ने उसके सांप काटने की जगह उंगुली काट कर खून बहाया और उसे तंत्र-मंत्र कर पानी को फूंक कर उसने महिला को पिला दिया। मंगलवार सुबह महिला की मौत हो गई। इस घटना की सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने मजार के मौलवी शरफू उसके साथ रह रहे गुड्डू, इदरीश व बाबू के खिलाफ मुकदमा कायम कर इदरीश और बाबू को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस शरफू और गुड्डू को तलाश रही है।

 

इनपुट- चंदौली के संवाददाता की रिपोर्ट

Show More
sarveshwari Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned