सामूहिक दुष्कर्म केस में 30 लाख रुपये लेने पर कांग्रेस का प्रदेश नेता गिरफ्तार

29 जुलाई को महिला थाने में सेक्टर-12 पानीपत में रहने वाले बापौली ब्लॉक के पूर्व चेयरमैन राकेश गुप्ता के भाई घनश्याम गुप्ता, सनौली पुलिस चौकी के सिपाही सुरेंद्र दहिया और सनौली के दुकानदार संजय रोहिल्ला पर एक महिला किराएदार ने गैंगरेप का केस दर्ज कराया था।

By: Bhanu Pratap

Published: 23 Aug 2020, 06:21 PM IST

पानीपत/चंडीगढ़। कांग्रेस के जिला संयोजक और पूर्व प्रदेश सचिव हरियाणा सुनील बिंझौल को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। सुनील पर 38 लाख रुपए में सामूहिक दुष्कर्म के एक केस में समझौता कराने का आरोप है। सुनील को 30 लाख रुपये मिले हैं। पुलिस ने रविवार को सुनील को कोर्ट में पेश किया। पुलिस 30 लाख रुपये बरामद करने चाहती है। दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला को पुलिस तलाश कर रही है।

व्यापारी, पुलिस सिपाही और दुकानदार पर दर्ज हुई रिपोर्ट

29 जुलाई को महिला थाने में सेक्टर-12 में रहने वाले बापौली ब्लॉक के पूर्व चेयरमैन राकेश गुप्ता के भाई घनश्याम गुप्ता, सनौली पुलिस चौकी के सिपाही सुरेंद्र दहिया और सनौली के दुकानदार संजय रोहिल्ला पर एक महिला किराएदार ने गैंगरेप का केस दर्ज कराया था। सनौली स्थित दुकान में दुष्कर्म करने की शिकायत की। पुलिस ने केस दर्ज किया, लेकिन कोई गिरफ्तारी नहीं हुई। पुलिस का कहना है कि केस में पहले 15 लाख में समझौता हुआ। सनौली के एक ब्राह्मण नेता ने 5 लाख रुपये सुनील के यहां पहुंचा दिए। इसके बाद महिला ने ज्यादा पैसे मांगे. सुनील ने 5 लाख रुपये लौटा दिए। फिर सुनील बिंझौल ने 38 लाख में महिला और आरोपियों के बीच समझौता करा दिया। समझौते के तहत 30 लाख रुपये सुनील बिंझौल के पास पहुंच गए।

30 लाख रुपये बरामद करने हैं
चूंकि मामला हाईप्रोफाइल हो गया, इसलिए इस मामले की जांच के लिए तीन डीएसपी और सनौली थाना के एसएचओ की एसआईटी बनाई गई। इसमें डीएसपी वीरेंद्र, डीएसपी संदीप और डीएसपी राजेश फोगाट के साथ ही एसएचओ सुरेंद्र शामिल हैं। डीएसपी वीरेंद्र ने कहा कि रेप केस में सुनील बिंझौल ने 38 लाख रुपए में समझौता कराया। 30 लाख रुपए पहुंच चुके हैं। सुनील को गिरफ्तार कर लिया गया है. उससे 30 लाख रुपए बरामद करने हैं।

कांग्रेस नेताओं का पुलिस पर आरोप

शनिवार को इसराना विधायक बलबीर वाल्मीकि, बुल्ले शाह, धर्मपाल गुप्ता, युवा जिला अध्यक्ष जितेंद्र कुंडू समेत कांग्रेस के बड़े नेता क्राइम इनवेस्टीगेशन एजेंसी-1 (सीआईए-1) गए थे। सुनील शुक्रवार से पुलिस की गिरफ्त में थे। सुनील बिंझौल की मौजूदगी में पुलिसकर्मियों ने कांग्रेस नेताओं को सबूत दिखाए। इसके बाद सभी लौट आए। कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया है कि सामूहिक रेप केस में पुलिसकर्मी फंसे हुए हैं, जिसे बचाने के लिए पुलिस सुनील बिंझौल को फंसा रही है।

Congress Congress leader
Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned