Corona के नाम पर पत्नी की हत्या, बड़े बेटे को नदी में फेंका, दूसरे को लेकर गायब

13 सितम्बर को हत्या के बाद बेटों से कहा- मां को कोरोना हो गया है मिलना मत

इश्मीत ने लुधियाना पुलिस को बताई पूरी कहानी, इस तरह हत्या का हुआ खुलासा

By: Bhanu Pratap

Updated: 17 Sep 2020, 02:19 PM IST

चंडीगढ़। सिटी ब्यूटीफुल चंडीगढ़ में हत्या का अजीब मामला सामने आया है। सरकारी के स्कूल में टीचर पति मनदीप ने टीचर पत्नी ज्योति (40 वर्षीय) की हत्या कर दी। दो बेटों से कहा कि मां को कोरोना हो गया है, मिलना मत। फिर वह गुरुद्वारा में मां के लिए मत्था टिकाने के बहाने दोनों बेटों को लेकर पंजाब की ओर चल दिया। लौटते समय लुधियाना में बस में से बड़े बेटे इश्मीत (13 वर्षीय) को नदी में फेंक दिया। लोगों ने उसे बचा लिया और पुलिस को सूचना दी। हत्यारोपी छोटे बेटे जश्नदीप को लेकर गायब है। पुलिस को आशंका है कि वह दूसरे बेटे की हत्या कर सकता है।

बेटे बताई ये बात

लुधियाना पुलिस ने इश्मीत से पूछताछ की। इश्मीत ने पुलिस को बताया- 13 सितम्बर को उसके पापा ने बताया कि मां को कोरोना हो गया है। वह ऊपर आराम कर रही है इसलिए उसे डिस्टर्ब नहीं करना। उसका 15 सितम्बर को जन्मदिन था। 14 सितम्बर को पापा दोनों को बर्थ-डे मनाने की बात कह कर जिला लुधियाना के गुरुद्वारा में माथा टेकने के ले गया था। फिर कहा कि मम्मी को जल्दी ठीक करने के लिए उन्हें गुरुदारे में माथा टेकने जाना होगा। हम वापस आ रहे थे तो दोराहा नदी के पास पापा ने उसे धक्का दे दिया। छोटे भाई जशनदीप को साथ लेकर पापा चले गए। लोगों ने उसे नदी से सही सलामत निकाल लिया और पास के गुरुदारे लेकर गए। वह चंडीगढ़ के सैक्टर-23 के मकान नंबर 25 में रहता है।

ताला तोड़कर घुसी पुलिस तो बिस्तर पर थी लाश

इश्मीत की बात सुनकर पुलिस का माथा ठनका। 15 सितम्बर की रात में ही लुधियाना पुलिस इश्मीत को लेकर चंडीगढ़ आ गई। घर पर ताला लगा हुआ था। बच्चे ने पुलिस को बताया कि घर के अंदर उसकी मम्मी पहली मंजिल के कमरे में है। उन्हें कोरोना हुआ है। लुधियाना पुलिस में मामले की जानकारी सैक्टर-17 थाना पुलिस को दी। थाना प्रभारी राम रत्न शर्मा मौके पर पहुंचे और घर का ताला तोड़कर अंदर पहली मंजिल पर गए तो हैरान हो गए। पहली मंजिल के कमरे में बिस्तर पर ज्योति का शव पड़ा हुआ था। आसपास खून बिखरा हुआ था। शव की हालत बेहद खराब थी। उसके सिर पर प्रहार करके हत्या की गई थी। पुलिस ने मौके पर फॉरैंसिक टीम को बुलाकर घटनास्थल से सबूत जुटाए। पुलिस ने जब महिला के पति मनदीप का मोबाइल मिलाया तो वह बंद आ रहा था।

13 सितम्बर को ही कर दी थी हत्या

चंडीगढ़ के सैक्टर-23 के मकान नंबर 25 में टीचर ज्योति अपने पति मनदीप और दो बेटों के साथ रहती थी। ज्योति रामदरबार स्कूल में टीचर थी और उसका पति मनदीप सैक्टर-47 के सरकारी स्कूल में टीचर है। मनदीप ने ज्योति की हत्या 13 सितम्बर को कर दी। पुलिस ने बताया कि आरोपी मनदीप ने दोनों बच्चों को अपनी मां से एक हफ्ते से नहीं मिलने दिया। उसने बच्चों को बताया कि ज्योति को कोरोना हुआ है। इसी का मौका उठाकर आरोपी ने ज्योति की हत्या कर दी। पुलिस को शक है कि आरोपी अपने साथ लेकर गए छोटे बेटे की भी हत्या कर सकता है। सैक्टर-17 थाना पुलिस ने आरोपी मनदीप सिंह के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया। पुलिस ने मृतका ज्योति के शव का पोस्टमार्टम सैक्टर-16 जनरल हॉस्पिटल में करवाया। इस दौरान मृतका की बहन और जीजा मौजूद रहे।

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned