30 हजार दुल्हनों को NRI ने यूं दिया धोखा, जानिए पूरा मामला

30 हजार दुल्हनों को NRI ने यूं दिया धोखा, जानिए पूरा मामला
Shocking Marriage

Devkumar Singodiya | Updated: 25 Jul 2019, 07:10:41 PM (IST) Chandigarh, Chandigarh, Punjab, India

Punjab brides: पंजाब में एनआरआई ( NRI ) पतियों के धोखे की शिकार महिलाओं की संख्या 30 हजार पहुंच गई है। पंजाब महिला आयोग ने पीएम मोदी ( PM MODI ) से इस पर रोक लगाने की मांग की है।

( चंडीगढ़/राजेन्द्र जादौन ) पंजाब ( Punjab ) में एनआरआई ( NRI ) पतियों के धोखे की शिकार महिलाओं ( Bride ) की संख्या 30 हजार तक पहुंच गई हैं। पंजाब महिला आयोग ( punjab women commission ) की अध्यक्ष मनीषा गुलाटी ने पीएम नरेन्द्र मोदी से कार्रवाई की मांग की है। गुलाटी ने प्रधानमंत्री से कहा कि शादी के बाद पत्नियों को छोडकर विदेश ( abroad ) भागने वाले एनआरआई पतियों का भारत में प्रत्यर्पण करवाया जाए। पीएम मोदी ( pm modi ) ने इस मामले में केन्द्र सरकार के स्तर पर उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।


ये महिलाएं इंडिया में रहकर अपने बच्चों ( children ) का पालन-पोषण तो कर रही है, लेकिन इनका सामाजिक जीवन तबाह हो गया है। पीडित महिलाओं ने सरकार ( Government ) और समाज से समाधान के लिए कई बार प्रदर्शन भी किए है। पीडित महिलाओं के एक समूह ने पिछले साल सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) में याचिका दाखिल कर आरोपी पतियों को गिरफ्तार करने एवं विदेश में मुकदमा लडऩे के लिए वित्तीय सहायता की मांग की थी। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल नवम्बर में केन्द्र सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा था। याचिका में ऐसी असहाय महिलाओं को वित्तीय सहायता की योजना बनाने की मांग भी की गई थी।

इसी दौरान तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आश्वासन दिया था कि एनआरआई के शादी करने के बाद पत्नियों को बेसहारा छोड जाने की प्रवृत्ति रोकने के लिए कानून बनाया जाएगा। उन्होंने बताया था कि सरकार ने ऐसे मामलों की निगरानी के लिए एक मैकेनिज्म स्थापित किया है और ऐसे एनआरआई के पासपोर्ट ( passport ) जब्त किए गए हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned