आन्ध्रप्रदेश से लाया गया 230 किलो गांजा जब्त, दो गिरफ्तार

कोयम्बत्तूर अब अवैध कारोबार का गढ़ बनता जा रहा है, गांजा तस्करों ने भी यहां अड्डा बना लिया है.

By: Arvind Mohan Sharma

Published: 15 May 2018, 12:50 PM IST

कोय म्बत्तूर. तमिलनाडु की औद्योगिक राजधानी माने जाना वाला कोय बत्तूर अब अवैध कारोबार का गढ़ बनता जा रहा है। गांजा तस्करों ने भी यहां अड्डा बना लिया है।
शहर के चिन्नीपालयम के निकटपुलिस ने एक जीप से 230 किलो गांजा जब्त कर दो लोगों को गिर तार किया है। पूछताछ में पता लगा कि भारी मात्रा में गांजे की तस्करी आन्ध्रप्रदेश से की जा रही है। शहर के बाहरी इलाके में तस्कर अपना काम अंजाम देते हैं। यहां से वे कोय बत्तूर के आसपास के शहर -कस्बों में गांजे की आपूर्ति करते हैं। शहर के बाहरी क्षेत्र में रहने के कारण पुलिस की भी नजर से छुपे रहते हैं। तस्क रों के पास एक जीप मिली हैं। इसे भी जब्त कर लिया गया है।

 

 

इसकी तस्करी से लेकर बिक्री तक में अब महिलाओं की संलिप्तता भी सामने आ रही है

वनराज (45) निवाली आडीपट्टी व मरुगन(40) निवासी कद बम से इस अवैध कारोबार से जुड़े लोगों के बारे में विस्तार से पूछताछ की जा रही है। युवा वर्ग में गांजे का प्रचलन बढ़ रहा है। विशेष रूप से कॉलेज छात्र व मजदूर गांजा पीने के शौकीन होते जा रहे हैं। कोय बत्तूर में कॉलेजों के आसपास की गलियों में चोरी छिपे गांजा बेचा जा रहा है। इसकी तस्करी से लेकर बिक्री तक में अब महिलाओं की संलिप्तता भी सामने आ रही है। अभी तक तो गांजे की तस्करी के बारे में पुलिस को यही जानकारी थी कि पश्चिमी घाट के अट्टपाई, अन्नवई, चिन्दगी, मुक्ली, कलामलाई, अप्परववानी, मुल्लई व काहेजहां में गांजे की चोरी छिपे खेती की जाती है। खेती के लिए घने जंगल के ऐसी जगह चुनी जाती है जहां वन विभाग के लोग भी नहीं जा पाते। ये काम आदिवासियों से कराया जाता है। फसल तैयार होने के बाद तस्कर इसकी छोटी -बड़ी खेप लेकर शहरों में आते हैं। मांग होने पर दूसरे राज्यों में भी तमिलनाडु से गांजे की तस्करी की जाती है।लेकिन ताजा मामले में आन्ध्र प्रदेश से गांजे की तस्करी का पता लगा है। एक साथ 230 किलो गांजे की खेप पकड़े जाने की पीछे भी तस्करों की बीच प्रतिस्पर्धा है। क्योंकि यह खेप पुलिस को मिली गोपनीय सूचना के आधार पर पकड़ी गई थी।

Arvind Mohan Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned